Saturday , 10 April 2021

केन्द्रीय गृह मंत्रालय के आदेश पर 186 लापता विदेशों नागरिकों के गिरेबान तक पहुंची राजस्थान पुलिस


जयपुर (jaipur) . राजस्थान (Rajasthan)में लापता चल रहे सैंकड़ों विदेशी नागरिकों में से कई के गिरेबान तक प्रदेश की सुरक्षा एजेंसियों के हाथ पहुंच चुके हैं. केन्द्रीय गृह मंत्रालय (Home Ministry) के निर्देश के बाद अलर्ट मोड पर आई गहलोत सरकार 186 लापता विदेशों नागरिकों तक पहुंच गई है.

राजस्थान (Rajasthan)में पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश सहित अन्य देशों के करीब 684 विदेशी नागरिक लापता हैं. ये लापता लोग राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा बने हुए हैं. लापता विदेशी नागरिकों को ढूंढने के लिए केन्द्रीय गृह मंत्रालय (Home Ministry) ने 1 जनवरी 2021 को राज्य सरकार (State government) को पत्र लिखकर उच्च स्तरीय कमेटी गठित करने के निर्देश दिए थे. गहलोत सरकार ने भी केन्द्र के निर्णय की पालन के तहत गृह विभाग के शासन सचिव एनएल मीणा की अध्यक्षता में एक उच्च स्तरीय कमेटी गठित कर दी थी. कमेटी ने सभी इंटेलिजेंस ऑफिसर को लापता विदेशी नागरिकों को ढूंढने के सख्त निर्देश दिए थे.

गृह विभाग के प्रिंसिपल सेक्रेट्री अभय कुमार ने राज्य में अवैध रूप से रह रहे विदेशी नागरिकों के विरुद्ध नियमानुसार आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिए थे. इसके लिये सभी जिलों के एसपी/ इंटेलिजेंस अधिकारियों को प्रदेश में अवैध रूप से रह रहे विदेशी/पाक नागरिकों की अलग-अलग सूची प्रत्येक माह की 2 तारीख तक राज्य सरकार (State government) को भिजवाने के निर्देश दे रखे हैं.

मामले की समीक्षा के लिए गृह विभाग के प्रिंसिपल सेक्रेटरी की सभी जिलों के एसपी के साथ वीसी होनी थी, लेकिन किसी कारणवश वह नहीं हो सकी. इससे पहले भी एक बार वीसी स्थगित हो चुकी है. केन्द्रीय गृह मंत्रालय (Home Ministry) ने वर्ष 2020 की रिपोर्ट के आधार पर राज्य सरकार (State government) को इन विदेशी नागरिकों को तलाशने के निर्देश दिये थे. केन्द्र के अनुसार देशभर में 4 लाख 21 हजार 255 विदेशी नागरिक लापता हैं. ये सभी विदेशी नागरिक वीजा लेकर भारत की यात्रा पर आए थे. लेकिन उसके बाद ये लोग अपने देश नहीं लौटे और लापता हो चुके है.

Please share this news