Wednesday , 2 December 2020

दिल्ली को कोविड-19 लिए 800 बिस्तरों वाले कोच मुहैया करा रहा है रेलवे


नई दिल्ली (New Delhi) . कोविड-19 (Covid-19) ड्यूटी के लिए अर्द्धसैनिक बलों के 45 डॉक्टर (doctor) और 160 चिकित्साकर्मी दिल्ली पहुंच चुके हैं. इसके साथ ही गृहमंत्री अमित शाह की अध्यक्षता में कोविड नियंत्रण के लिए फैसलों को तेजी से लागू किया जा रहा है. गृहमंत्रालय ने गृहमंत्री अमित शाह की अध्यक्षता में 15 नवंबर को हुई बैठक में लिए गए फैसलों को लागू किये जाने की जानकारी दी. इस कड़ी में भारतीय रेल राष्ट्रीय राजधानी को 800 बिस्तरों वाले कोच उपलब्ध कराएगा.

नवंबर के आखिर तक प्रतिदिन 60 हजार आरटीपीसीआर टेस्ट की छमता विकसित करने और अगले हफ्ते तक दस मोबाइल टेस्ट बैन 20 हजार टेस्ट की छमता के साथ तैनात करने की जानकारी भी गृहमंत्रालय ने दी है. केन्द्रीय गृह मंत्रालय (Home Ministry) ने बताया कि रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन डीआरडीओ दिल्ली हवाईअड्डे के पास स्थित कोविड-19 (Covid-19) अस्पताल में अगले तीन-चार दिनों में आईसीयू में मौजूदा 250 बिस्तरों में 250 अतिरिक्त बिस्तर जोड़ने जा रहा है. इसके अलावा 35 बीआईपीएपी बिस्तर भी उपलब्ध कराए जाएंगे. केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह की अध्यक्षता में रविवार (Sunday) को हुई उच्चस्तरीय बैठक में लिए गए 12 फैसलों को लागू करने के क्रम में यह कदम उठाया गया है. दिल्ली में 28 अक्टूबर से कोविड-19 (Covid-19) के नए मामलों में तेजी आयी है.

लगातार बढ़ते मामलों की वजह से एक बार फिर गृहमंत्रालय सक्रिय है. गृह मंत्रालय (Home Ministry) के प्रवक्ता ने बताया कि हवाईअड्डे के निकट स्थित डीआरडीओ के अस्पताल और छत्तरपुर स्थित कोविड-19 (Covid-19) देखभाल केन्द्र में तैनाती के लिए अर्द्धसैनिक बलों के 45 डॉक्टर (doctor) और 160 चिकित्साकर्मी दिल्ली आए हुए हैं. अधिकारियों ने बताया कि बाकी डॉक्टर (doctor) और चिकित्साकर्मी अगले कुछ दिनों में दिल्ली आ जाएंगे. अधिकारियों ने बताया कि भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) और दिल्ली सरकार साथ मिलकर नवंबर के अंत तक 60,000 आरटी-पीसीआर जांच प्रतिदिन की क्षमता विकसित करने पर काम कर रहे हैं. प्रवक्ता ने बताया कि 17 नवंबर को दिल्ली में रोजाना 10,000 जांच की क्षमता है.