महराजा की मालिक फिर से बन सकती हैं टाटा संस, आज होगा इसका खुलासा – Daily Kiran
Thursday , 9 December 2021

महराजा की मालिक फिर से बन सकती हैं टाटा संस, आज होगा इसका खुलासा

नई दिल्ली (New Delhi) . कर्ज में डूबी सरकारी एयर लाइन कंपनी एयर इंडिया की कमान किसके हाथों होगी, इसका खुलासा आज होने की संभावना है.सूत्रों ने कहा है कि मोदी सरकार कर्ज में डूबी एयर इंडिया की बोली जीतने वाले का शुक्रवार (Friday) को ऐलान कर सकती है.चर्चा है कि एयर इंडिया फिर से अपने पुराने मालिक टाटा ग्रुप की झोली में जा सकती है. एयर इंडिया की स्थापना टाटा ग्रुप ने की थी.रिपोर्ट के मुताबिक, साल के आखिरी तक महाराजा यानी एयर इंडिया की कमान टाटा संस के हाथ में फिर से जा सकती है.हालांकि केंद्र सरकार (Central Government)ने इन बातों का खंडन किया है.

दीपम ने कहा था कि एयर इंडिया विनिवेश मामले में भारत सरकार द्वारा फाइनेंशियल बिड्स को मंजूरी देने वाली मीडिया (Media) रिपोर्ट गलत हैं.मीडिया (Media) को सरकार के फैसले के बारे में बताया जाएगा.एकलौती सरकारी विमानन कंपनी एयर इंडिया इन दिनों आकण्ठ कर्ज में डूबी हुई है.इस पर 58 हजार करोड़ रुपये से अधिक का कर्ज है. आलम ये है कि यहां काम करने वाले कर्मचारियों को समय पर वेतन तक नहीं मिल पा रहा है.

बता दें कि 1932 में जेआरडी टाटा ने एयर इंडिया को टाटा एयरलाइंस के नाम से लांच किया था.1946 में टाटा एयरलाइंस का नाम बदल कर के एयर इंडिया कर दिया गया.1953 में सरकार ने एयर इंडिया को टाटा से खरीद लिया था. साल 2000 तक यह सरकारी एयरलाइन मुनाफे में चलती रही.लेकिन 2001 के बाद इसके बुरे दिन शुरू हो गए. इस साल कंपनी को 57 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था.एयर इंडिया के घाटे को लेकर कई अधिकारियों पर गाज गिरी थी. धीरे-धीरे घाटा बढ़ता गया और एयर इंडिया पर कर्ज चढ़ता गया. जब सरकार को कर्ज से छुटकारा पाने का कोई रास्ता नहीं सूझा,तब एयरइंडिया को बेचने का फैसला किया गया.

Check Also

नवंबर में 2000 रुपए के नोट घटकर 223.3 करोड़ रह गए

नई दिल्ली (New Delhi) . इस साल नवंबर में 2,000 रुपए के नोटों की संख्या …