Thursday , 29 July 2021

हरियाणा के कई इलाकों में बारिश और ओलावृष्टि, किसान हुए परेशान

चंडीगढ़ (Chandigarh) . हरियाणा (Haryana) में पश्चिमी विक्षोभ के कारण कई स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश हुई. हिसार जिले में उकलाना और गांव किनाला, पाबड़ा, साहू सहित कई क्षेत्रों में बारिश के साथ ओले भी गिरे. अचानक बा‎रिश और ओलाबृ‎ष्टि के कारण ‎किसानों की उम्मीदों पर पानी ‎फिर गया है. दरअसल, बेमौसम बा‎रिश से फसलों का नुकसान हुआ है. प्रदेश के ज्यादातर स्थानों पर इससे दिन के तापमान में गिरावट दर्ज की गई, जबकि रात्रि तापमान में बढ़ोतरी हुई है.

मौसम ‎‎विभाग के अनुसार, सिरसा के दिन के तापमान में भी बढ़ोतरी हुई और यह 2 डिग्री सेल्सियस की गिरावट के साथ 33.1 डिग्री सेल्सियस रहा. सबसे कम अधिकतम तापमान 28 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. य‎दि न्यूनतम तापमान की बात करें तो यह अंबाला का सबसे कम 16.8 डिग्री सेल्सियस और रोहतक (Rohtak) का 19.4 डिग्री सेल्सियस रहा. भिवानी में रविवार (Sunday) रात को तेज हवाओं के साथ बूंदाबांदी हुई तो सोमवार (Monday) सुबह और फिर शाम को बूंदाबांदी हुई. शाम को तेज ठंडी हवाएं चलीं. सिरसा के चोपटा क्षेत्र के नहराणा, तरक्कावालीं और शकरमंदोरी गांव में सोमवार (Monday) दोपहर बाद बूंदाबांदी के साथ ओलावृष्टि से सरसों और गेहूं की फसल को काफी नुकसान हुआ है.

मौसम विशेषज्ञ का कहना है ‎कि मंगलवार (Tuesday) को भी बारिश और ओलावृष्टि होने की संभावना है. सोमवार (Monday) को पश्चिमी हरियाणा (Haryana) के जिलों में पश्चिमी विक्षोभ का खासा असर रहा. मौसम विभाग के अनुसार, मंगलवार (Tuesday) को भी प्रदेश के ज्यादातर हिस्सों में मौसम परिवर्तनशील बना रहेगा. इस दौरान पश्चिमी विक्षोभ के असर के कारण कहीं-कहीं तेज हवाओं के साथ हल्की बारिश व बूंदाबांदी की संभावना है.

Please share this news