Sunday , 29 November 2020

आसमान से पत्थर गिरने से टूटी छत और ताबूत बनाने वाला बन गया करोड़पति !

-करीब साढ़े 4 अरब साल पुराने दुर्लभ उल्‍कापिंड की कीमत 1.3 मिलियन पाउंड आंकी गई है

कोलांग . इंडोनेशिया के उत्‍तरी सुमात्रा के कोलांग शहर में ताबूत बनाने वाले 33 साल के जोसुआ हुतागलुंग के घर पर आसमान से एक अनमोल खजाना गिरा और वह देखते ही देखते 10 करोड़ रुपए के मालिक बन गए. दरअसल, जोसुआ के घर पर आकाश से एक बड़ा सा उल्‍कापिंड गिरा. जब पत्थर की जांच की गयी तो पता चला कि यह करीब साढ़े 4 अरब साल पुराना दुर्लभ उल्‍कापिंड है जिसकी कीमत 1.3 मिलियन पाउंड आंकी गई है.

जोसुआ ने बताया कि उल्‍कापिंड के गिरने के समय वे उत्‍तरी सुमात्रा के कोलांग स्थित अपने घर के बगल में काम कर रहे थे. इसी दौरान उन्हें जोर से आवाज़ सुनाई दी और जब उन्होंने कमरे से निकल कर देखा तो उनकी छत में एक बड़ा सा छेद हो चुका था. आकाश से गिरे पत्‍थर का वजन करीब 2.1 किलोग्राम है. जोसुआ ने बताया कि उल्‍कापिंड गिरने से 15 सेंटीमीटर जमीन में गड्ढा भी हो गया था. इस उल्‍कापिंड के बदले जोसुआ को 14 लाख पाउंड या करीब 10 करोड़ रुपये मिले हैं. रिपोर्ट के मुताबिक जोसुआ ने जमीन के अंदर गड्ढा खोदकर अनमोल उल्‍कापिंड को बाहर निकाला इसलिए इस पर उसी का मालिकाना हक बनता था.

जोसुआ ने बताया कि जब उन्‍होंने इसे जमीन से निकाला तो वह काफी गरम था और आंशिक रूप से टूटा हुआ था. जोसुआ ने कहा कि उल्‍कापिंड के गिरने की आवाज इतनी तेज थी कि उसके घर के कई हिस्‍से हिल गए और घर की छत टूट गई. स्‍थानीय लोगों ने बताया कि उन्‍होंने बहुत तेज धमाके की आवाज सुनी जिससे उनके घर भी हिल गए. दुर्लभ उल्‍कापिंड के गिरने के बाद जोसुआ के घर उसे देखने वालों का तांता लगा हुआ है.