Sunday , 25 July 2021

ऑटो एपे वालों की बल्ले-बल्ले

बुरहानपुर (Burhanpur) . कोरोना संक्रमण फैलने के बाद महाराष्ट्र (Maharashtra) की ओर से आवागमन को पूर्णतया प्रतिबंधित कर बस परिवहन सेवा को बंद कर दिया गया है इसी के साथ निजी वाहनों के माध्यम से भी आवागमन प्रतिबंधित है लेकिन इसी के साथ एपे और ऑटो चालकों की बल्ले-बल्ले हो रही है. महाराष्ट्र (Maharashtra) की ओर से बस सेवा बंद होने के चलते चोरी-छिपे एपे चालक सवारियों का परिवहन कर उन से दो गुना (guna) से अधिक किराया वसूल कर काली कमाई में लगे हैं. जिन पर परिवहन विभाग के द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है यात्री बसों का जिले की सीमा में प्रवेश प्रतिबंधित है यात्री वाहनों को सीमा से वापस बैरंग लौटाया जा रहा है अन्य आवश्यक मामलों में यात्रा के लिए 72 घंटे पूर्व की आरटी पीसीआर रिपोर्ट को अनिवार्य किया गया है.

सड़क मार्ग सहित रेल मार्ग से आने वाले यात्रियों (Passengers) को होमकवारिटीन के आदेश देकर प्रवेश दिया जा रहा है. पर दिनभर सीमाओं को लांघने वाले एपे चालकों पर कोई कार्यवाही क्यों नहीं की जा रही यह समझ से परे है ऐपे चालक कभी महाराष्ट्र (Maharashtra) सीमा तक सवारियों को लेकर तो कभी वहां से पैदल रोड क्रॉस कर मध्य प्रदेश की सीमा में प्रवेश करने वाले यात्रियों (Passengers) को लेकर शहऱ पहुंच रहे हैं. जिला प्रशासन ने किसी भी तरह से जिले में प्रवेश पर प्रतिबंध लगा रखा है पर ऐपे चालक जिला प्रशासन के आदेशों को धता बताकर धड़ल्ले से सवारियों का परिवहन करने में लगे हैं जिससे संक्रमण के फैलने और तीसरी लहर को निर्माण निमंत्रण देने के सामान है.

Please share this news