Friday , 27 November 2020

अमेरिका में हृदय रोग पर जागरूकता बढ़ाने के लिए एक विधेयक को मंजूरी

-भारतवंशी प्रमिला जयपाल ने विधेयक को तैयार करने में निभाई है महत्वपूर्ण भूमिका

वाशिंगटन . अमेरिका में हृदय रोग के तेजी से बढ़ रहे मामलों के बीच कांग्रेस की महत्वपूर्ण कमेटी ने एक विधेयक को मंजूरी दी है, जिसका मकसद दक्षिण एशियाई मूल के लोगों के दिल को सेहतमंद बनाए रखने के लिए उन्हें जागरुक बनाना है. अमेरिकी कांग्रेस (संसद) की सदस्य भारतवंशी प्रमिला जयपाल ने दक्षिण एशियाई मूल के लोगों के बीच हृदय संबंधी जागरूकता और अध्ययन को लेकर एक विधेयक को तैयार करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है. प्रतिनिधि सभा में मतदान के लिए इसे विधेयक को बुधवार (Wednesday) को पेश किया गया. इस कानून का मकसद अमेरिका में रहने वाले दक्षिण एशियाई मूल के लोगों के बीच हृदय रोग की बढ़ती दर को लेकर जागरूकता बढ़ाना और बीमारी को रोकने के लिए रणनीति तैयार करना है. ऊर्जा और कारोबार पर सदन की कमेटी ने विधेयक को मंजूरी दे दी है.

विधेयक को मंजूरी मिलने के बाद जयपाल ने कहा, प्रतिनिधि सभा की पहली निर्वाचित दक्षिण एशियाई-अमेरिकी महिला होने के नाते मैं समुदाय के सदस्यों के बीच हृदय रोग से जुड़े खतरों के बारे में जागरूकता बढ़ाने को लेकर प्रतिबद्ध हूं. साथ ही यह भी सुनिश्चित करना होगा कि हृदय रोग से जूझ रहे लोगों को पर्याप्त देखभाल, उपचार की भी मदद मिले. उन्होंने कहा, मुझे गर्व है कि कमेटी ने इस आवश्यक विधेयक को मंजूरी दे दी और इसके कानून बनने तक मैं प्रयास करती रहूंगी. इस विधेयक में प्रावधान है कि स्वास्थ्य और मानव सेवा (एचएचएस) सेवा विभाग के सचिव बीमारी रोकथाम और नियंत्रण केंद्र (सीडीएस) को समुदाय के इलाज के लिए धन का आवंटन करेंगे. इसके तहत दक्षिण एशियाई मूल के लोगों के बीच जागरूकता फैलाने के लिए भी कार्यक्रम चलाए जाएंगे.