Tuesday , 7 July 2020
शाहीन बाग में फिर सीएए विरोधी प्रदर्शन की आशंका

शाहीन बाग में फिर सीएए विरोधी प्रदर्शन की आशंका


नई दिल्ली (New Delhi) . दिल्ली का शाहीन बाग इलाका एक बार फिर सुर्खियों में है. इस इलाके में एक बार फिर पुलिस (Police) तैनात है. इलाके में धारा 144 लगा दी गई है ताकि दोबारा नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship amendment law) विरोधी प्रदर्शन शुरू न हो. दिल्ली पुलिस (Police) के ज्वाइंट कमिश्नर देवेश चन्द्र श्रीवास्तव, डीसीपी आरपी मीणा, एडिशनल डीसीपी कुमार ज्ञानेश और ढाल सिंह ने बुधवार (Wednesday) को मौके का जायजा लिया और अब यहां पुलिस (Police) की तैनाती की गई है.

असल में, शाहीन बाग इलाके में नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship amendment law) नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजंस और नेशनल पॉपुलेशन रजिस्टर के खिलाफ करीब तीन महीने तक चलने वाला धरना सियासी बवंडर की तरह था.धरने के दौरान सड़क पर टेंट लगा दिए गए थे और सड़क बंद रही थी. पिछली बार शाहीन बाग का धरना सरकार (Government) के लिए सिर दर्द था तो इस बार पहले से ही दिल्ली पुलिस (Police) तैयार दिख रही है. एहतियात के तौर पर दिल्ली पुलिस (Police) और पैरा मिलिट्री फोर्स के जवान यहां पर तैनात हैं.बता दें कि 15 दिसंबर को शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन कानून, एनपीआर और एनआरसी के खिलाफ धरना शुरू हुआ था जो लंबा चला. लेकिन जब देश में कोरोना का संकट हुआ तो लोग धरना स्थल से हटे. उससे पहले सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) ने तीन वार्ताकर नियुक्त कर धरना खत्म कराने की कोशिश की थी, लेकिन यह मुमकिन नहीं हो सका.