Friday , 14 May 2021

अब सभी जिलों में चलेगी BSRTC की बस, पटना से काठमांडू व भूटान सीमा तक मिलेगी सर्विस

पटना (Patna) . बिहार (Bihar) राज्य पथ परिवहन निगम के प्रशासक श्याम किशोर ने बताया कि अब बिहार (Bihar) के हर जिले से जहां निगम की बसें गुजरेंगी, वहीं सभी पर्यटन स्थलों के लिए भी बस सेवा शुरू हो रही है, जिसको लेकर बसों की खरीद कर ली गई है और इसी माह के अंत तक सेवा शुरू होगी. उन्होंने बताया कि राज्य के अंदर चलनेवाली बसों में आंचलिक गीत और प्रार्थना गीत भी सुनाई देगी, जिनमें मैथिली ठाकुर से लेकर भिखारी ठाकुर के गीतों का लुत्फ यात्री उठा सकेंगे.

पटना (Patna) से काठमांडू और जनकपुर, मोतिहारी से भूटान की सीमा से लेकर राज्य के तमाम पर्यटक स्थलों तक आने-जाने के लिए बस सेवा शुरू करने की योजना पर तेजी से काम हो रहा है. मोतिहारी से जयगांव, किशनगंज से गाजियाबाद (Ghaziabad) भी निगम की बसें चलेंगी. जबकि पटना (Patna) स्मार्ट सिटी के लिए भी निगम ने 25 इलेक्ट्रिक बसों को चलाने का फैसला लिया है, जिसको लेकर फुलवारीशरीफ में इलेक्ट्रिक पावर स्टेशन का निर्माण भी चल रहा है. बसों की भी खरीदारी कर ली गई है. निगम अधिकारियों के अनुसार, पटना (Patna) से काठमांडू के बीच बस सेवा का परिचालन कोरोना से पहले हो रहा था. एक बार फिर यह सेवा शुरू की जाएगी. तय समय और दिन के अनुसार कोरोना के मानकों का पालन करते हुए निगम ने बस सेवा शुरू करने की तैयारी कर ली है.

मोतिहारी से पश्चिम बंगाल (West Bengal) की बस सेवा फिर शुरू होगी. इस बस से भूटान की सीमा तक आया-जाया जा सकता है. पहले चरण में 75 बसों का परिचालन होगा. इसमें हर जिला मुख्यालय से बसों का परिचालन शुरू हो जाएगा. यह सभी बसें वॉल्वो होंगी. प्रदूषणमुक्त राजधानी बनाने की कड़ी में निगम ने पटना (Patna) में 50 सीएनजी से बसों को चलाने का निर्णय लिया है. इलेक्ट्रिक बस चलाने का निर्णय पहले ही लिया जा चुका है. अब इस पर अमल होगा. पहले चरण में 25 इलेक्ट्रिक बस पटना (Patna) निगम क्षेत्र में चलाई जाएगी.

Please share this news