Sunday , 11 April 2021

महिला न्यायिक मजिस्ट्रेट एवं अधिवक्ता पर हमला करने वालों की नहीं करेगा पैरवी उदयपुर के वकील

उदयपुर (Udaipur). उदयपुर (Udaipur) शहर में तैनात महिला न्यायिक अधिकारी एवं बार एसोसिएशन के अधिवक्ता को घर में जाकर धमकाने वाले अभियुक्तों की  बार एसोसिएशन ने पैरवी नहीं करने का निर्णय लिया है. बार एसोसिएशन की कार्यकारिणी ने एक बैठक करके ऐसे अभियुक्तों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई करने का फैसला किया है.

बार एसोसिएशन के अध्यक्ष मनीष शर्मा ने बताया कि शुक्रवार (Friday) को हुई कार्यकारिणी सदस्यों की वह आमंत्रित अधिवक्ताओं की बैठक में महिला न्यायिक अधिकारी के घर जाकर धमकाने वाले पटवारी राहुल बावती एवं बार एसोसिएशन के  अधिवक्ता देवी लाल जाट घर जाकर धमकाने एवं हमला करने वाले अभी गणों के विरुद्ध जिला एवं सत्र न्यायालय के अधीन आने वाले समस्त न्यायालय में उनकी अधिवक्ताओं द्वारा किसी भी शर्त पर पैरवी भी नहीं करने का निर्णय लिया गया है.

बता दे अधिवक्ता देवी लाल जाट के घर पर जाकर अधिवक्ताओं ने उसे धमकाने तथा हमला करने का दुस्साहस किया है. अधिवक्ता पर हमला लोकतंत्र के एवं पक्षकारों को न्याय दिलाने की व्यवस्था पर करारा प्रहार है.

वही न्यायिक महिला न्यायिक मजिस्ट्रेट पर घर जाकर धमकाने एवं जान लेने की धमकी देने वाले पटवारी के राहुल बावती की भविष्य में न्यायालय में पेरवी करने से अधिवक्ताओं ने इनकार करने का निर्णय लिया है. बार एसोसिएशन की आपात बैठक में अध्यक्ष मनीष शर्मा ने कहा कि  अपराध की दुनिया में कदम रखने वाले लोगों का न्याय व्यवस्था पर यह सीधा प्रहार है जिसे  किसी भी सूरत (Surat) में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.

Please share this news