एक समय बीमारू राज्य कहा जाने वाला प्रदेश मुख्यमंत्री चौहान के नेतृत्व में बना विकास का उदाहरण : केन्द्रीय मंत्री गडकरी – – Daily Kiran
Thursday , 28 October 2021

एक समय बीमारू राज्य कहा जाने वाला प्रदेश मुख्यमंत्री चौहान के नेतृत्व में बना विकास का उदाहरण : केन्द्रीय मंत्री गडकरी –

इन्दौर (Indore) . “एक समय मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) बीमारू राज्यों की गिनती में आता था, लेकिन मुख्यमंत्री (Chief Minister) शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के विकास को एक नई दिशा मिली है. मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) ने आधारभूत ढांचों के विकास से लेकर कृषि क्षेत्र, विज्ञान एवं टेक्नोलॉजी समेत सभी क्षेत्रों में श्रेष्ठता हासिल की है. मेरा मानना है कि किसी भी राज्य का समग्र विकास तभी संभव है जब उसकी अधोसंरचना मजबूत हो. मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) को यह मजबूती प्रदान करने के लिए आज 9577 करोड़ रुपए की लागत से कुल 1356 किलोमीटर लंबी 34 सड़क परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया गया है. इसके साथ ही मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) को देश का लॉजिस्टिक कैपिटल बनाने में केंद्र सरकार, राज्य शासन का हर संभव सहयोग करेगी, यह मेरा वादा है.”

यह बात आज केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी द्वारा मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के मुख्यमंत्री (Chief Minister) शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में इन्दौर (Indore) के ब्रिलिएंट कन्वेंशन सेंटर में आयोजित लोकार्पण एवं शिलान्यास समारोह में कही गई.
मुख्यमंत्री (Chief Minister) चौहान की अध्यक्षता में इन्दौर (Indore) के ब्रिलिएंट कन्वेंशन सेंटर में आज 34 बड़ी सड़क परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास समारोह आयोजित किया गया, जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी शामिल हुए. इस अवसर पर वर्चुअल रूप से केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, केंद्रीय नागरिक विमानन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया, केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री डॉ. वीरेंद्र कुमार, जल शक्ति एवं खाद्य प्रसंस्करण उद्योग के राज्य मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल, इस्पात ग्रामीण विकास के राज्य मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते शामिल हुए. कार्यक्रम में पूर्व लोकसभा (Lok Sabha) अध्यक्ष श्रीमती सुमित्रा महाजन, गृह तथा इन्दौर (Indore) जिले के प्रभारी मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा, लोक निर्माण मंत्री गोपाल भार्गव, जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट, औद्योगिक निवेश प्रोत्साहन मंत्री राजवर्धन सिंह, भाजपा महासचिव व पूर्व मंत्री कैलाश विजयवर्गीय, पर्यटन मंत्री सु उषा ठाकुर, सूक्ष्म लघु उद्योग मंत्री ओमप्रकाश सकलेचा, राज्य मंत्री सुरेश सिंह धाकड, सांसद (Member of parliament) शंकर लालवानी मंच पर विशेष रूप से मौजूद थे. इसके साथ ही जिले के विधायकगण सहित अन्य जनप्रतिनिधि एवं अधिकारीगण उपस्थित रहे.

अगले माह फिर प्रदेश में आकर दूंगा एक लाख करोड़ के नए प्रोजेक्ट की सौगात : केंद्रीय मंत्री गडकरी
केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि उन्होंने अपने कार्यकाल के दौरान मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में डेढ़ लाख करोड़ रुपए की परियोजनाएं शुरू कर दी हैं और उन्होंने वादा किया कि वह अगले माह फिर प्रदेश आएंगे और एक लाख करोड़ की नवीन परियोजनाओं की घोषणा करेंगे. उन्होंने दिल्ली-मुंबई (Mumbai) एक्सप्रेस-वे के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि 1350 किलोमीटर लंबाई का एक्सप्रेस-वे जनवरी 2023 तक निर्मित किया जाएगा. मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) भी इस एक्सप्रेस-वे का हिस्सा है. एक्सप्रेस-वे के तहत प्रदेश में लगभग 11 हजार करोड़ की लागत से 245 किलोमीटर 8 लेन मार्ग बनाया जा रहा है. इस एक्सप्रेस-वे के माध्यम से दिल्ली से मुंबई (Mumbai) की दूरी 24 घंटे से घटकर 12 घंटे हो गई है. उन्होंने कहा कि देश भर में ऐसे कई राष्ट्रीय राजमार्ग बनाए जा रहे हैं जिनसे राज्यों एवं शहरों के बीच की दूरी घटकर आधी रह गई है. केंद्रीय मंत्री गडकरी ने बताया कि मुख्यमंत्री (Chief Minister) चौहान द्वारा चम्बल एक्सप्रेस-वे को अटल प्रगति पथ का जो नया नाम दिया गया है उसके लिये मैं उन्हें धन्यवाद देता हूं. उन्होंने बताया कि अटल प्रगति पथ दिल्ली-मुम्बई (Mumbai) एक्सप्रेस-वे से मिलेगा. यह प्रदेश के विकास की दृष्टि से अत्यंत उपयोगी सिद्ध होगा.

इन्दौर (Indore) का बढ़ना प्रदेश के विकास का बढ़ना है : मुख्यमंत्री (Chief Minister) चौहान
मुख्यमंत्री (Chief Minister) शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) (Prime Minister Narendra Modi) के जन्मदिवस की पूर्व संध्या पर आज मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) को विकास की एक बड़ी सौगात प्राप्त हो रही है. और यह असंभव कार्य संभव किया है केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने. उन्होंने कहा क‍ि देश की दिशा एवं दशा बदलने वाली प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना की परिकल्पना पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी के साथ केन्द्रीय मंत्री गडकरी ने की थी और आज उनके द्वारा दी गई यह सौगात मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के विकास की दिशा भी बदलेगी. मुख्यमंत्री (Chief Minister) चौहान ने कहा कि राज्य शासन द्वारा प्रदेश में अमरकंटक से अलीराजपुर तक लगभग 1000 किमी. के नए नर्मदा एक्स्प्रेस वे का प्रस्ताव तैयार किया गया है. इस परियोजना को इंटिग्रेटेड एक्सप्रेस वे के रूप में स्वीकृति दी जाने हेतु राज्य शासन शीघ्र ही भारत शासन को प्रस्ताव भेजने जा रहा है. उन्होंने कहा कि इस एक्सप्रेस-वे को नर्मदा प्रगति पथ का नाम दिया जाये और राज्य शासन इसके आसपास इंडस्ट्रियल क्लस्टर विकसित करेगा, जिससे रोजगार के नये अवसर भी सृजित होंगे. उन्होंने कहा कि भारत सरकार की भारतमाला परियोजना के सम्पूर्ण भारत में 35 मल्टी-मॉडल लॉजिस्टिक पार्क विकसित किए जाने की योजना है. इसमें इन्दौर (Indore) तथा भोपाल (Bhopal) का चयन किया गया है. रतलाम में भी 1 हजार एकड़ जमीन राज्य शासन द्वारा उपलब्ध कराई जा रही है, वहां भी लॉजिस्टिक पार्क बनना चाहिए. उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार के सहयोग से हम प्रदेश को देश का लॉजिस्टिक कैपिटल बनाएंगे. मुख्यमंत्री (Chief Minister) चौहान ने कहा कि बुधनी विधानसभा क्षेत्र तीन राष्ट्रीय राजमार्ग के बीच है. यदि तीनों को जोड़ा जाए तो 92 किमी सड़क की जरूरत होगी. उन्होंने केंद्रीय मंत्री गडकरी से अनुरोध किया कि इस मार्ग को भी राष्ट्रीय राजमार्ग में जोड़ने की स्वीकृति प्रदान करें. उन्होंने कहा कि केंद्रीय मंत्री गडकरी के सहयोग से इन्दौर (Indore) में जो लॉजिस्टिक पार्क बनाया जा रहा है वो इन्दौर (Indore) के विकास को और अधिक आगे बढ़ाएगा और इन्दौर (Indore) का आगे बढ़ना पूरे प्रदेश के विकास का बढ़ना है.
कार्यक्रम के दौरान केंद्रीय मंत्री गडकरी की महत्वपूर्ण घोषणाएं
– बुधनी विधानसभा क्षेत्र से गुजरने वाले तीन राष्ट्रीय राजमार्ग को जोड़ने वाली सड़क को राष्ट्रीय राजमार्ग घोषित किया.
– भारतमाला योजना के तहत प्रदेश में शुरू किये जाएंगे 35 हजार करोड़ रूपये लागत की नई परियोजनाएं.
– आगामी माह एक लाख करोड़ रूपये की नवीन परियोजनाओं की होगी घोषणा.
– इन्दौर-जबलपुर (Jabalpur) -भोपाल (Bhopal) -ग्वालियर (Gwalior) में ब्रॉडगेज मेट्रो की नि:शुल्क कंसलटेंसी प्रदान की जायेगी.
– इन्दौर (Indore) के पश्चिम रिंग रोड निर्माण कार्य का पुन: अध्ययन कर शुरू किया जायेगा.
– इन्दौर-खण्डवा रोड पर विशेष पुल का निर्माण किया जायेगा. उन्होंने इस पुल के दोनों तरफ स्क्रीन पर माँ अहिल्याबाई के जीवन पर लाईट एवं साउण्ड शो आयोजित करने के संबंध में प्रस्ताव बनाकर भेजने का अनुरोध किया.
– इन्दौर (Indore) के बायपास की सर्विस रोड का सुदृढ़िकरण कार्य को भी मंजूरी दी गई.
– राज्य शासन द्वारा भेजे गये प्रस्ताव का अध्ययन कर इन्दौर-जबलपुर (Jabalpur) -सागर-ग्वालियर (Gwalior) में भी रिंग रोड का निर्माण किया जायेगा.
कार्यक्रम के दौरान केन्द्र सरकार एवं राज्य सरकार (State government) के मध्य 800 करोड़ रूपये लागत से 150 एकड़ भूमि पर बन रहे मल्टी मॉडल लॉजिस्टिक पार्क का एमओयू साईन किया गया. इस अवसर पर वर्चुअल रूप से शामिल हुए केंद्रीय मंत्रीगणों ने भी केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री गडकरी द्वारा प्रदेश को दी गई सौगात के लिये धन्यवाद ज्ञापित किया.

Please share this news

Check Also

कांग्रेस देश और प्रदेश में नाम की बची, ये क्या कम उपलब्धि है:जयराम

करसोग . ब्रिगेडियर खुशाल ठाकुर का चुनाव चिन्ह कमल नंबर एक पर है और वो …