Tuesday , 20 April 2021

ज्योतिर्लिंग महाकालेश्वर मंदिर में शिव नवरात्रि आज से

उज्‍जैन. ज्योतिर्लिंग महाकालेश्वर मंदिर में बुधवार (Wednesday) से शिव नवरात्र शुरू हो जाएगा. केवल महाकाल मंदिर में ही महाशिवरात्रि पर शिव नवरात्र मनाया जाता है. नौ दिन तक भगवान का विशेष शृंगार पूजन होगा. इसी दिन से महाशिवरात्रि महापर्व की शुरुआत हो जाएगी. इसके लिए मंदिर को सजाया संवारा गया है. मंदिर परिसर में विशेष विद्युत सज्जा की गई है.

मंदिर समिति के सदस्य पुजारी आशीष गुरु के अनुसार पहले दिन बुधवार (Wednesday) को सुबह नैवेद्य कक्ष में चंद्रमौलेश्वर का पूजन, इसके बाद कोटेश्वर महादेव का पूजन होगा. ब्राह्मण वरण किया जाएगा. दोपहर में गर्भगृह में अभिषेक पूजन होगा. भगवान को चंदन लगाकर दूल्हा बनाएंगे. दोपहर 3 बजे विशेष पूजन में भगवान को वस्त्र धारण कराकर शृंगार पूजन होगा. इसी तरह नौ दिन तक भगवान का विभिन्न स्वरूपों में शृंगार पूजन किया जाएगा.

11 मार्च को महाशिवरात्रि पर 11 व 12 मार्च की रात 11 बजे से महापूजन होगा. 12 को तड़के 6 बजे भगवान का शृंगार कर फल-फूल, मेवों से बना सेहरा चढ़ाया जाएगा. 12 को सुबह 11 बजे तक सेहरे के दर्शन होंगे. दोपहर 12 बजे सेहरा उतार कर भस्म अर्पित कर भस्मआरती की जाएगी. साल में केवल एक ही दिन भस्मआरती दोपहर में होती है. चंद्र दर्शन वाले दिन भगवान के पांच स्वरूपों का एक साथ दर्शन होगा. चंद्र दर्शन वह दिन है जब शिव ने चंद्रमा को अपने मस्तक पर धारण किया था.

Please share this news