पीएम मोदी लोगों के बीच के संबंधों को तोड़ने का काम करते हैं, इसकारण मैं उनके खिलाफ हूं: राहुल गांधी – Daily Kiran
Saturday , 4 December 2021

पीएम मोदी लोगों के बीच के संबंधों को तोड़ने का काम करते हैं, इसकारण मैं उनके खिलाफ हूं: राहुल गांधी

मलप्पुरम . केरल (Kerala) के वायनाड से सांसद (Member of parliament) राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) पर लोगों के बीच के संबंधों को तोड़ने का आरोप लगाकर दावा किया कि इससे भारत की भावना ‘बिखरती’ जा रही है.उन्होंने आरोप लगाया कि यह दावा करना प्रधानमंत्री का ‘‘अहंकार है कि कोई और नहीं, बल्कि सिर्फ वही (प्रधानमंत्री मोदी ही) भारत को जानते व समझते हैं, खासकर जब वह (मोदी) विभिन्न राज्यों एवं क्षेत्रों की संस्कृति, भाषा, जीवनशैली तथा लोगों की समस्याओं को जाने-बूझे बगैर ही दावे करते हैं.

केरल (Kerala) के मलप्पुरम जिले में डायलायसिस केंद्र का उद्घाटन कर राहुल गांधी ने कहा कि भारत महज एक भौगोलिक क्षेत्र नहीं है, बल्कि यह यहां रहने वाले लोगों और एकदूसरे के साथ उनके आपसी संबंध हैं. उन्होंने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री से मेरी समस्या यह है कि वह इन संबंधों को तोड़ रहे हैं. यदि पीएम भारत के लोगों के बीच के संबंध तोड़ रहे हैं,तब वह भारत की भावना में विखराव ला रहे हैं.इसकारण है कि मैं उनके खिलाफ हूं. राहुल ने कहा, जब भी वह (प्रधानमंत्री) इस तानेबाने को तोड़ते हैं, तब लोगों के बीच संबंधों को दुरूस्त करना मेरा दायित्व है. जब भी वह इन संबंधों को तोड़ने के लिए नफरत का इस्तेमाल करते हैं, तब प्रेम एवं करूणा से उसे दुरूस्त करना मेरा दायित्व है.कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने कहा कि वह देश की विभिन्न संस्कृतियों, विचारों और धर्मों को समझे बगैर उनके बीच सेतु नहीं बना सकते और उसके लिए व्यक्ति को पूरी नम्रता एवं चीजों को समझने की इच्छा के साथ विभिन्न राज्यों एवं देश के धर्मस्थलों की यात्रा करने की जरूरत होती है.

उन्होंने कहा,यदि मैं अहंकार के साथ इन स्थानों पर जाता हूं,तब मैं अज्ञानी हूं. कैसे मैं, हजारों वर्षों के इतिहास वाले केरल (Kerala) एवं तमिलनाडु (Tamil Nadu) के लोगों के पास जाकर दावा कर सकता हूं कि मैं उन्हें जानता हूं. मुझे उनके पास नम्रता से जाना होगा. अन्यथा मैं कैसे परिभाषित कर सकता हूं कि भारत क्या है?’’ उन्होंने कहा, ‘‘ उस व्यक्ति के अहंकार की कल्पना कीजिए, जो दावा करता हैं, मैं जानता हूं कि भारत क्या है. मैं जानता हूं कि केरल (Kerala) के लोगों की जरूरत क्या है. मुझे पता है कि तमिलनाडु (Tamil Nadu) के लोगों की जरूरत क्या है.

Check Also

शनिश्चरी अमावस्या एवं सूर्य ग्रहण आज एक साथ; भारत में नहीं दिखेगा सूर्य ग्रहण का असर

भोपाल (Bhopal) . आज शनिश्चरी अमावस्या एवं सूर्यग्रहण एक साथ है. इस अवसर पर राजधानी …