पंजाब में फीचर अभी बाकी, सिद्धू कैप्टन से नहीं मांगने वाले सार्वजनिक तौर पर माफी

अमृतसर (Amritsar) . कांग्रेस शासित राज्य पंजाब (Punjab) में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव (Assembly Elections) से पहले जारी कांग्रेस पार्टी के भीतर का दंगल अभी खत्म नहीं हुआ है. पंजाब (Punjab) कांग्रेस के नए अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू ताजपोशी के बाद से ही समर्थकों से मिल रहे हैं.इसी कड़ी में सिद्धू अमृतसर (Amritsar) में स्वर्ण मंदिर में माथा टेका.सूत्रों के मुताबिक, सिद्धू किसी भी हाल में कैप्टन अमरिंदर सिंह से सार्वजनिक तौर पर माफी नहीं मांगने वाले हैं. वहीं, कैप्टन चाहते हैं कि सिद्धू उनसे सार्वजनिक तौर पर माफी मांगें.

नए-नए अध्यक्ष बने सिद्धू का समर्थकों से मिलना जारी है. बुधवार (Wednesday) को नवजोत सिंह सिद्धू अमृतसर (Amritsar) में हैं और उनके घर पर विधायकों का जुटना जारी है. सिद्धू का दावा है कि उनके साथ 62 विधायक मौजूद हैं. बता दें कि पंजाब (Punjab) में कांग्रेस के कुल विधायकों की संख्या 80 है.सिद्धू ने विधायकों के साथ स्वर्ण मंदिर का दौरा भी किया. बुधवार (Wednesday) को ही नवजोत सिंह सिद्धू का वाल्मीकि मंदिर जाने का भी प्लान है. वहीं सिद्धू को अभी तक कैप्टन अमरिंदर सिंह ने बधाई नहीं दी है.कैप्टन की ओर से साफ कर दिया गया है कि जबतक नवजोत सिंह सिद्धू उनसे सार्वजनिक माफी नहीं मांगतें वहां मुलाकात नहीं करने वाले है.

Please share this news