Thursday , 29 July 2021

मुंबई में दूसरे राज्यों से आने वाले यात्रियों पर मनपा की पैनी नजर, स्टेशनों पर किया जा रहा है एंटीजन टेस्ट


मुंबई (Mumbai) , . मुंबई (Mumbai) में कोरोना संक्रमण का खतरा दिनों-दिन बढ़ता जा रहा है. लगातार बढ़ते कोरोना मामलों को देखते हुए मुंबई (Mumbai) मनपा ने सोमवार (Monday) से भीड़-भाड़ वाले कई रेलवे (Railway)स्टेशनों पर बाहर से आने वाले यात्रियों (Passengers) की एंटीजन रैपिड टेस्ट करने की शुरुआत की. इन स्टेशनों पर लंबी दूरी की ट्रेनों से गुजरात (Gujarat), राजस्थान, मध्य प्रदेश, दिल्ली, गोवा और लखनऊ (Lucknow) से आने वाले यात्रियों (Passengers) का एंटीजन रैपिड टेस्ट किया जा रहा है.

इन स्टेशनों पर रोजाना करीब 9000 यात्रियों (Passengers) के टेस्ट का लक्ष्य रखा गया है. इस टेस्ट में नेगेटिव रिपोर्ट आने पर यात्रियों (Passengers) को घर जाने दिया जा रहा है, लेकिन पॉजिटिव आने वालों को मनपा सीधे क्वारंटीन सेंटर ले जा रही है. दरअसल मुंबई (Mumbai) में कोरोना का खतरा बड़ी तेजी से बढ़ रहा है और हर दिन कोरोना के आंकड़े नए रिकॉर्ड कायम कर रहे हैं. ऐसे में मनपा की नजर मुंबई (Mumbai) से सटे राज्यों से आने वाले लोगों पर है. बढ़ते कोरोना मामलों को देखते हुए मनपा मुंबई (Mumbai) के भीड़-भाड़ बोरीवली, बांद्रा, दादर, मुंबई (Mumbai) सेंट्रल, सीएसएमटी, एलटीटी और ठाणे (Thane) स्टेशनों पर ट्रेनों के जरिये बाहर से आने वाले यात्रियों (Passengers) का एंटीजन टेस्ट कर रही है. इसकी सबसे बड़ी वजह है कि गुजरात (Gujarat), राजस्थान, मध्य प्रदेश, दिल्ली, गोवा और लखनऊ (Lucknow) में भी कोरोना से हालात बिगड़ रहे हैं.

इसको देखते हुए इन जगहों से आने वाले यात्रियों (Passengers) का टेस्ट किया जा रहा है, ताकि मुंबई (Mumbai) में कोरोना संक्रमण को बढ़ने से रोका जा सके. टेस्ट के दौरान कई यात्री पॉजिटिव भी पाए गए हैं, जिन्हें मनपा ने क्वारंटीन सेंटर भेजा है. रेलवे (Railway)के आला अधिकारियों के मुताबिक मुंबई (Mumbai) में कोरोना का खतरा बढ़ रहा है. साथ ही उसके आस-पास के राज्यों में भी हालत बिगड़ रहे हैं. इसके चलते स्टेशनों पर एंटीजन टेस्ट किया जा रहा है, ताकि बाहर से आने वाले यात्रियों (Passengers) के जरिए मुंबई (Mumbai) में संक्रमण को रोका जा सके.

Please share this news