Tuesday , 19 January 2021

कोरोना रोकने के लिए नीतियां और दिशानिर्देश हैं, लेकिन इच्छाशक्ति नहीं : सुप्रीम कोर्ट


नई दिल्ली (New Delhi) . सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) ने बढ़ते कोरोना संक्रमण पर चिंता जताते हुए कहा कि हालात बद से बदतर होते जा रहे हैं. राज्यों को इसे रोकने के लिए राजनीति से ऊपर उठकर कड़े उपाय करने चाहिए. संक्रमण रोकने के लिए नीतियां और दिशानिर्देश हैं, लेकिन उसे लागू करने की इच्छाशक्ति नहीं है. घर से बाहर निकलने वाले 60 फीसदी लोग बिना मास्क के और 30 फीसदी मास्क गले में लटकाकर घूम रहे हैं. केंद्र सरकार (Central Government)(Central Government) पूरे देश में कोरोना की रोकथाम के लिए जारी दिशानिर्देशों को लागू करने का नेतृत्व करे. लोगों के लापरवाह रवैए पर भी कोर्ट ने चिंता जताई. इस मामले में अगली सुनवाई एक दिसंबर को होगी. न्यायमूर्ति अशोक भूषण की अध्यक्षता वाली तीन सदस्यीय पीठ कोरोना संक्रमण की रोकथाम और इलाज पर स्वत: संज्ञान लेकर सुनवाई कर रही है.

Please share this news