Friday , 26 February 2021

स्पेस यात्रियों के लिए 2.3 करोड़ डॉलर से बने नए टाइटेनियम शौचालय का परीक्षण नासा ने किया


केप केनारवेल . अमेरिका की स्पेस संस्था नासा ने अभिनव प्रयोग करते हुए दशकों बाद 2.3 करोड़ डॉलर (Dollar) (करीब 168 करोड़ रुपये) की लागत से अंतरिक्ष यात्रियों (Passengers) के लिए तैयार टाइटेनियम शौचालय का परीक्षण किया जिसमें महिलाओं की सुविधा का विशेष ख्याल रखा गया है. इस शौचालय को मालवाहक अंतरिक्ष यान में रखकर गुरुवार (Thursday) देर रात को वर्जीनिया के वालोप्स आईलैंड से अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष केंद्र को रवाना करना था लेकिन उल्टी गिनती पूरी होने से महज दो मिनट पहले उड़ान रोक दी गई.

नार्थोप ग्रुमैन ने कहा है कि इंजीनियर अगर समस्या का पता लगा लेते हैं तो शुक्रवार (Friday) को इसे दोबारा रवाना करने की कोशिश की जाएगी. यह शौचालय करीब 45 किलोग्राम वजनी है और इसकी ऊंचाई महज 71 सेंटीमीटर है जो मौजूदा समय में अंतरिक्ष केंद्र में लगे रूसी शौचालय के मुकाबले महज आधी है. यह इतना छोटा है कि इसे नासा के ओरियन कैप्सूल में लगाया जा सकता है जो कुछ सालों के बाद अंतरिक्ष यात्रियों (Passengers) को लेकर चंद्रमा पर जाएगा. नासा के मुताबिक अंतरिक्ष केंद्र में मौजूद अंतरिक्ष यात्री कुछ महीनों तक इस शौचालय का इस्तेमाल करेंगे और सब ठीक रहा तो इसे स्थायी रूप से लगाया जाएगा.

Please share this news