Friday , 14 May 2021

माननीय सांसदों को अब नहीं मिलेगी 35 रुपये की थाली, ओम बिरला ने कहा, सालना 8 करोड़ रुपये की होगी बचत

नई दिल्ली (New Delhi) . हमारे माननीय सांसदों को संसद भवन परिसर की कैंटीन में सब्सिडी वाला खाना नहीं मिलेगा. दरअसल लोकसभा (Lok Sabha) स्पीकर ओम बिरला ने मंगलवार (Tuesday) को इसकी जानकारी दी है. ओम बिरला ने कहा, सांसदों, अन्य को संसद में कैंटीन के भोजन पर दी जाने वाली सब्सिडी रोक दी गई है.

उन्होंने बताया कि संसद की कैंटीन को अब आईटीडीसी (इंडियन टूरिज्म डेवलपमेंट कॉरपोरेशन) चलाएगा. इसके पहले उत्तरी रेलवे (Railway)के पास ये जिम्मेदारी थी. कैंटीन में एक थाली की कीमत 35 रुपये थी. सूत्रों ने बताया कि सब्सिडी समाप्त होने से लोकसभा (Lok Sabha) सचिवालय को सालाना 8 करोड़ रूपये की बचत हो सकेगी. बता दें कि कैंटीन में मिलने वाली सब्सिडी करने के लिए लोकसभा (Lok Sabha) स्पीकर ओम बिरला ने सुझाव दिया था. सभी पार्टियों ने इस मसले पर सहमति जाहिर की थी. संसद की कैंटीन में मिलने वाली सब्सिडी कई बार विवादों का हिस्सा रही है.

वहीं ओम बिरला ने कहा, 29 जनवरी से शुरू होने वाले संसद सत्र के दौरान राज्यसभा की कार्यवाही सुबह नौ बजे से दोपहर दो बजे तक होगी, लोकसभा (Lok Sabha) की कार्यवाही शाम चार से रात आठ बजे तक होगी. लोकसभा (Lok Sabha) अध्यक्ष ने कहा, 29 जनवरी से शुरू होने वाले संसद सत्र के दौरान राज्यसभा की कार्यवाही सुबह नौ बजे से दोपहर दो बजे तक होगी, लोकसभा (Lok Sabha) की कार्यवाही शाम चार से रात आठ बजे तक होगी. सं

सद सत्र शुरू होने से पहले सभी सांसदों से कोविड-19 (Covid-19) जांच कराने का अनुरोध किया जाएगा. सांसदों के आवास के निकट भी उनके आरटी-पीसीआर कोविड-19 (Covid-19) परीक्षण किए जाने के प्रबंध किए गए हैं. बिरला ने कहा कि संसद परिसर में 27-28 जनवरी को आरटी-पीसीआर जांच की जाएगी, सांसदों के परिवार, कर्मचारियों की आरटी-पीसीआर जांच के भी प्रबंध किए गए हैं.

Please share this news