Tuesday , 15 June 2021

TMC में आते ही सक्रिय हुए यशवंत सिन्हा


नई दिल्ली (New Delhi) .पश्चिम बंगाल (West Bengal) में तृणमूल कांग्रेस और भाजपा एक-दूसरे को लगातार टक्कर दे रही हैं. टीएमसी के एक प्रतिनिधिमंडल ने चुनाव आयोग ये मुलाकाती की, जिसमें पार्टी में कुछ समय पहले शामिल हुए यशवंत सिन्हा भी शामिल थे. टीएमलसी ने मांग की है कि ममता बनर्जी हमले वाले मामले में पुख्ता रिपोर्ट जारी की जाए.बता दें कि चुनाव आयोग से मिलने गए इस प्रतिनिधिमंडल में पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा, टीएमसी सांसद (Member of parliament) महुआ मोइत्रा और सौगत रॉय शामिल थे. बैठक के बाद तृणमूल कांग्रेस के नेता यशवंत सिन्हा ने कहा हमने बंगाल की सच्चाई के बारे में चुनाव आयोग को अवगत कराया है.

टीएमसी पोलिंग बूथ के आस-पास केंद्रीय बूछ की तैनाती नहीं चाहती है ऐसा इसलिए है क्योंकि इससे लोगों में डर का माहौल पैदा हो सकता है. साथ ही उन्होंने चुनाव आयोग से अपील कर कहा है कि वो पश्चिम बंगाल (West Bengal) की जनता को समझे, वहां ज्यादातर लोग बंगाली बोलते हैं और इस ऐसी स्थित में ऐसी ही फोर्स की तैनाती की जाए जो लोगों को समझ सके. इस दौरान मोइना ने भी कहा कि पोलिंग बूथ के 100 मीटर तैनात होने वाली केंद्रीय फोर्स के फैसले पर फिर से विचार होना चाहिए.पश्चिम बंगाल (West Bengal) में 27 मार्च से चुनाव होने हैं, जिनके नतीजे 2 मई को आएंगे.

Please share this news