Friday , 14 May 2021

रात में बजरंगबली की पूजा इसलिए होती है ज्यादा लाभकारी

हनुमान जी हमेशा ही भगवान श्रीराम की भक्ति में लीन रहते हैं सारा दिन प्रभु की सेवा में लगे रहते हैं. इसलिए ऐसी मान्यता है कि रात के समय जब भगवान श्रीराम विश्राम करते हैं, उस समय हनुमान जी की पूजा की जाए तो वो अपने भक्तों की पुकार अवश्य सुनते हैं.
इसलिए यदि आप हनुमान जी को प्रसन्न करना चाहते हैं तो रात में अवश्य हनुमान जी का पूजन करें. बजरंगबली अवश्य आपकी पुकार सुनेंगे.
कष्ट दूर करें
यदि आपके जीवन में किसी भी तरह की परेशानी या कष्ट हैं तो रात के समय हनुमान चालीसा का पाठ करें. यदि आप पाठ 9 बजे रात शुरू करते हैं तो हर दिन उसी वक्त करें. यानी पाठ करने का समय ना बदलें. अपना आसन भी एक ही रखें उसे भी ना बदलें. आप देखेंगे की 21 दिन लगातार पाठ करने के बाद आपकी समस्या हल होना शुरू हो जाएगी.
यदि बच्चा आपका कहना नहीं मानता है
प्रत्येक मंगलवार (Tuesday) तथा शनिवार (Saturday) रात 8 बजे हनुमान चालीसा का पाठ करें, कुछ ही दिन में बच्चे का स्वभाव बदलेगा और आपकी बात मानने लगेगा.
यदि विदेश में सफलता नहीं मिल रही है
यदि आप विदेश में हैं और आपको सफलता नहीं मिल रही है तो हनुमान चालीसा का प्रतिदिन रात 8.30 बजे पाठ करें और कोशिश करें कि 9 दिन में 108 पाठ पूरे हो जाएं. आप देखेंगे आपको सफलता मिलने लगेगी.
इन बातों का रखें ख्याल
हनुमान जी की वो तस्वीर लगायें जिसमें भगवान राम, लक्ष्मण और सीता जी भी हों.
हनुमान जी की पूजा उपासना करते समय साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखें, आपके पूजा का स्थान साफ होना चाहिए.
हनुमान जी की पूजा के बाद आरती अवश्य करें.
हनुमान जी को बेसन से बनी मिठाई का भोग लगाएं.
पूजा के स्थान पर शांति रखें.

Please share this news