Saturday , 5 December 2020

टोक्यो ओलंपिक तक हमें एक बेहतर टीम बनानी होगी : सुनील

बेंगलुरू (Bengaluru) . भारतीय पुरुष हॉकी टीम के स्ट्राइकर एसवी सुनील ने कहा कि आगामी टोक्यो ओलंपिक तक हमें एक बेहतर टीम बनानी होगी. सुनील ने कहा कि पुरुष और महिला हॉकी टीमों ने पिछले एक दशक में काफी प्रगति की है और अब टीम पहले से अधिक पेशेवर हो गयी है. सुनील ने मौजूदा भारतीय टीम की तुलना उस समय से की जब उन्होंने 2007 में एशिया कप से अंतर्राष्ट्रीय हॉकी में पदार्पण किया था.

सुनील ने कहा, ” यह बहुत अलग था जब मैंने साल 2007 में भारत की सीनियर टीम में पदार्पण किया था. 10-12 साल पहले की तुलना में अब राष्ट्रीय टीम का प्रबंधन कैसे किया जाता है, इसके संदर्भ में बहुत कुछ बदल गया है.” उन्होंने कहा, ” अब टीम में बहुत अधिक पेशेवर रवैया और जवाबदेही वाली हो गयी है. वहीं हॉकी इंडिया ने तय किया है कि हमारे पास गुणवत्तापूर्ण सहायता प्रणाली है जो अन्य शीर्ष देशों की तुलना में बराबर या बेहतर है. टूर्नामेंट और प्रतिस्पर्धा की योजना यह तय करती है कि हम शीर्ष टूर्नामेंटों से पहले सही प्रदर्शन करें.” समय-समय पर पूर्व खिलाड़ियों के अनुभवों का भी लाभ लिया गया है. इसके अलावा कोचिंग में इस दो-तरफा संचार प्रणाली (खिलाड़ियों और कोच के बीच संवाद) के कारण टीम के प्रदर्शन के साथ ही उसकी विश्व रैंकिंग भी बेहतर हुई है.