Sunday , 6 December 2020

मतदाता सूचियों का पुनरीक्षण कार्यक्रम कल से


जयपुर (jaipur) . राज्य निर्वाचन विभाग प्रदेश में 20 नवम्बर से फोटोयुक्त मतदाता सूचियों का विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम चलाएगा. इस दौरान आगामी 1 जनवरी, 2021 को 18 वर्ष आयु पूर्ण करने वाले पात्र मतदाताओं के नाम जोड़े जाएंगे और अपात्रों के नाम हटाने एवं नामों में सुधार का कार्य किया जाएगा. मुख्य निर्वाचन अधिकारी प्रवीण गुप्ता ने इस संबंध में शासन सचिवालय में मान्यता प्राप्त राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक कर कार्यक्रम को सफल बनाने में योगदान देने का आह्वान किया.

मुख्य निर्वाचन अधिकारी प्रवीण गुप्ता ने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग द्वारा निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार शुक्रवार (Friday), 20 नवम्बर को एकीकृत मतदाता सूचियों का प्रारूप प्रकाशन किया जाएगा. मतदाता सूचियों का प्रारूप प्रकाशन संबंधी दावे एवं आपत्तियां 20 नवम्बर से 21 दिसम्बर तक मांगी जाएंगी. मतदाता सूचियों के संबंधित भाग की प्रविष्टियों का ग्रामसभा या स्थानीय निकाय एवं आवासीय वेलफेयर सोसाइटी के साथ बैठक आयोजित कर 19 दिसम्बर को पठन और सत्यापन किया जाएगा.

राजनीतिक दलों के बूथ स्तरीय अभिकर्ताओं के साथ दावे एवं आपत्तियों के आवेदन पत्र प्राप्त करने की विशेष तिथियां 29 नवम्बर एवं 6 दिसम्बर निर्धारित की गई हैं. दावे एवं आपत्तियों का निस्तारण 11 जनवरी, 2021 तक किया जाएगा तथा 18 जनवरी, 2021 को मतदाता सूचियों का अंतिम प्रकाशन किया जाएगा. मुख्य निर्वाचन अधिकारी प्रवीण गुप्ता ने सभी मान्यता प्राप्त राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों से संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम को सफल बनाने में योगदान देने का आग्रह किया, ताकि पात्र मतदाताओं के नाम जोडऩे, हटाने तथा संशोधित करने का कार्य समयबद्ध कार्यक्रम के तहत बेहतर ढंग से किया जा सके और कोई भी पात्र मतदाता नाम जुड़वाने से वंचित नहीं रहे.