जम्मू में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर पाकिस्तानी गोलीबारी में बीएसएफ के दो जवान व एक महिला घायल

जम्मू, 27 अक्टूबर | अरनिया में अंतर्राष्ट्रीय सीमा (आईबी) पर पाकिस्तानी रेंजरों द्वारा भारी गोलीबारी के बाद कई नागरिकों ने अपने घर छोड़कर सुरक्षित इलाकों में शरण ले ली, इसमें सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के दो जवान और एक महिला घायल हो गईं.

एक बयान में, बीएसएफ के बयान में कहा गया है “ अरनिया क्षेत्र में बीएसएफ चौकियों पर पाकिस्तान रेंजर्स द्वारा अकारण गोलीबारी शुरू कर दी गई, जिसका बीएसएफ जवानों द्वारा माकूल जवाब दिया जा रहा है.”

अरनिया सेक्टर में गोलीबारी में आधा दर्जन अग्रिम गांवों को निशाना बनाया गया, इसके बाद पाकिस्तानी सैनिकों ने सुचेतगढ़ सेक्टर के तीन गांवों तक गोलीबारी बढ़ा दी.

रेंजर्स की ओर से नागरिक इलाकों को निशाना बनाकर कुछ मोर्टार गोले भी दागे गए.

पुलिस ने बताया कि रात 11 बजे तक भारी गोलीबारी जारी रही. इसके बाद रुक-रुक कर फायरिंग होती रही.

अरनिया सेक्टर में फायरिंग में बीएसएफ के दो जवान घायल हो गए. उनकी पहचान कर्नाटक के बसवराज एसआर (30) और शेर सिंह के रूप में की गई.

घायल महिला की पहचान अरनिया के वार्ड 5 निवासी बलबीर सिंह की पत्नी रजनी बाला (38) के रूप में हुई.

घायलों को निकालकर सरकारी मेडिकल कॉलेज (जीएमसी) अस्पताल, जम्मू में भर्ती कराया गया, जहां उपस्थित डॉक्टरों ने उनकी हालत स्थिर बताई है.

पाकिस्तान की ओर से गोलीबारी शुरू होने से सीमा पर रहने वालों में दहशत फैल गई.

बहुत से मजदूर, जो खेतों में काम करने आए थे, सुरक्षित इलाकों में शरण लेने के लिए गांव छोड़कर चले गए.

17 अक्टूबर को इसी सेक्टर में रेंजर्स द्वारा अकारण की गई गोलीबारी में बीएसएफ के दो जवान घायल हो गए थे, इसके एक हफ्ते बाद गुरुवार को पाकिस्तानी रेंजरों द्वारा गोलीबारी और गोलाबारी की गई.

गौरतलब है कि भारत और पाकिस्तान ने जम्मू और कश्मीर में नियंत्रण रेखा और आईबी पर युद्धविराम का सख्ती से पालन करने के लिए 25 फरवरी, 2021 को एक युद्धविराम समझौते पर हस्ताक्षर किए थे.

Check Also

दिल्ली में जामिया कैंपस में हुई झड़प में 3 घायल

नई दिल्ली, 2 मार्च . जामिया मिलिया इस्लामिया (जेएमआई) परिसर में दो समूहों के बीच …