आखिरकार ट्विटर ने अंतरिम मुख्य अनुपालन अधिकारी नियुक्त किया


नई दिल्ली (New Delhi) . ट्विटर ने भारत में लागू किए गए नए सूचना प्रौद्योगिकी नियमों के अनुसार अंतरिम मुख्य अनुपालन अधिकारी नियुक्त किया है. ट्विटर प्रवक्ता ने कहा कि नए दिशा-निर्देशों का पालन करने की हर कोशिश जारी है. सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय को हर कदम पर प्रगति की जानकारी दी जा रही है.

ज्ञात रहे कि केंद्र द्वारा ट्विटर को नोटिस जारी करने के कुछ दिनों बाद कांग्रेस नेता शशि थरूर की अध्यक्षता वाली एक संसदीय समिति ने माइक्रो ब्लॉगिंग साइट के शीर्ष अधिकारियों को शुक्रवार (Friday) को बयान दर्ज कराने और सोशल मीडिया (Media) मंच के दुरुपयोग की रोकथाम के लिये प्रतिवेदन देने को तलब किया है. सूचना एवं प्रौद्योगिकी संबंधित संसद की स्थायी समिति ने सोशल मीडिया (Media) मंचों को दुरुपयोग और नागरिक अधिकारों की सुरक्षा से संबंधित मुद्दे पर अपना पक्ष रखने के लिये फेसबुक और ट्विटर समेत सोशल मीडिया (Media) की कई दिग्गज कंपनियों को तलब किया है.

स्थायी समिति की 18 जून को होने वाली बैठक के संदर्भ में जारी एक नोटिस के मुताबिक इसका एजेंडा “ट्विटर के प्रतिनिधियों के पक्ष को सुनना है, जिसके बाद डिजिटल स्पेस में महिलाओं की सुरक्षा पर विशेष जोर देने समेत नागरिकों के अधिकारों की सुरक्षा तथा सोशल/ऑनलाइन मीडिया (Media) मंचों के दुरुपयोग की रोकथाम पर इलेक्ट्रॉनिक्स टेक्नोलॉजी के प्रतिनिधियों के साक्ष्यों को देखना है.”

बैठक का नोटिस लोकसभा (Lok Sabha) सचिवालय द्वारा जारी किया गया है. इस महीने ही केंद्र सराकर ने ट्विटर को “एक आखिरी नोटिस” जारी करते हुए उससे नए सूचना प्रौद्योगिकी नियमों का अनुपालन करने को कहा था.

Please share this news