आकाश इंस्टीट्यूट उदयपुर के तीन छात्रों ने समेकित जेईई मेंस 2021 के परिणाम में 96 परसेंटाइल और उससे अधिक अंक हासिल किए – Daily Kiran
Sunday , 24 October 2021

आकाश इंस्टीट्यूट उदयपुर के तीन छात्रों ने समेकित जेईई मेंस 2021 के परिणाम में 96 परसेंटाइल और उससे अधिक अंक हासिल किए


उदयपुर (Udaipur). 
परीक्षा की तैयारी सेवाओं में राष्ट्रीय स्तर पर अग्रणी, आकाश इंस्टीट्यूट के उदयपुर (Udaipur) ब्रांच से तीन छात्रों ने प्रतिष्ठित जॉइंट एंट्रेंस एग्जामिनेशन (जेईई) मेंस 2021 के समेकित परिणाम में प्रभावशाली 96 प्रतिशत और उससे अधिक अंक हासिल किए हैं. अरिहंत जैन (99.28 पर्सेंटाइल), लोचन जैन (96.69 पर्सेंटाइल) और हार्दिक पारख (96.49 पर्सेंटाइल) ने 96 पर्सेंटाइल और उससे अधिक अंक हासिल किए हैं. दुनिया की सबसे कठिन प्रवेश परीक्षा माने जाने वाले आईआईटी जेईई को क्रैक करने के लिए छात्रों ने आकाश इंस्टीट्यूट में दो साल के क्लासरूम प्रोग्राम में दाखिला लिया. उन्होंने जेईई में टॉप पर्सेंटाइल की उच्च सूची में अपने प्रवेश का श्रेय अवधारणाओं को समझने के उनके प्रयासों और उनके सीखने के कार्यक्रम के सख्त पालन को दिया.

आकाश एजुकेशनल सर्विसेज लि. (एईएसएल) के मैनेजिंग डायरेक्टर आकाश चौधरी ने कहा कि हम उदयपुर (Udaipur) के तीनों छात्रों को उनकी अनुकरणीय उपलब्धि के लिए बधाई देते हैं. देशभर से जेईई मेंस 2021 के चार सत्रों के लिए 10 लाख से अधिक छात्रों ने पंजीकरण कराया. टॉप पर्सेंटाइल स्कोरर के रूप में उनकी उपलब्धि उनकी कड़ी मेहनत और समर्पण के साथ-साथ उनके माता-पिता के समर्थन को भी दर्शाती है. हम उनके भविष्य के प्रयासों के साथ उन्हें शुभकामनाएं देते हैं. उन्होंने कहा कि महामारी (Epidemic) से प्रभावित शैक्षणिक वर्षों के दौरान, आकाश इंस्टीट्यूट ने छात्रों को जेईइ में टॉप पर्सेंटाइल स्कोरर में बदलने के लिए कड़ी मेहनत की. हमने छात्रों के लिए हमेशा उपलब्ध रहने के लिए अपनी डिजिटल उपस्थिति को आगे बढ़ाया. अध्ययन सामग्री और प्रश्न बैंकों को ऑनलाइन उपलब्ध कराया. परीक्षा की तैयारी और समय प्रबंधन कौशल पर कई आभासी प्रेरक सत्र और सेमिनार आयोजित किए.

जेईई मेन चार सत्रों में आयोजित किया जाता है ताकि छात्रों को अपने स्कोर में सुधार करने के लिए कई अवसर मिले. जबकि जेईई एडवांस केवल इंडियन इंस्टीटूट्स ऑफ़ टेक्नोलॉजी (आईआईटी) में प्रवेश के लिए है, जेईई मेन भारत में कई नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजीस (एनआईटी) और अन्य केंद्र-सहायता प्राप्त इंजीनियरिंग कॉलेजों में प्रवेश के लिए है. जेईई एडवांस में बैठने के लिए छात्रों को जेईई मेन के लिए उपस्थित होना होगा. सभी चार सत्रों के लिए कुल 10,48,012 छात्रों ने आवेदन किया था, जिनमें से 9,39,008 छात्र (student) परीक्षा में शामिल हुए थे. एनटीए द्वारा उपलब्ध कराए गए आंकड़ों के अनुसार, सभी चार सत्रों के लिए 2,52,954 उम्मीदवार उपस्थित हुए.

Please share this news

Check Also

दुष्कर्म पीड़िता नाबालिग रात काे जाली ताेड़ कर भागी

डूंगरपुर. शहर के मुस्कान संस्थान बालिका गृह से बुधवार (Wednesday) रात काे दुष्कर्म पीड़िता नाबालिग …