केरल में चोर का पश्चाताप: सोने का हार चुराने के बाद पैसे लौटाए, माफीनामा भेजा

तिरुवनंतपुरम, 26 अक्टूबर . एक चोर, जिसने तीन साल के बच्चे से सोने का हार चुराया था, ने पश्चाताप करते हुए पत्र भेजकर माफी मांगी और हार बेचने से जो पैसे मिले थे वह वापस कर दिया.

घटना कुछ दिन पहले पलक्कड़ के पास हुई थी, जब एक चोर ने तीन साल के बच्चे के गले से 1.75 सॉवरेन (एक सॉवरेन बराबर 7.98 ग्राम) वजन का सोने का हार लूट लिया था.

परिवार को बाद में हार के गायब होने का एहसास हुआ. फिर उन्होंने यह सोचकर हार की खोज शुरू की कि बच्चे ने अनजाने में उसे कहीं गिरा दिया है.

लेकिन तमाम कोशिशों के बावजूद भी हार का पता नहीं चला.

हालाँकि कुछ दिनों बाद उन्हें रसोई के पास रखा एक लिफाफा मिला, जिसमें पैसे और माफ़ीनामा वाला पत्र था.

पत्र उस चोर का था जिसने अपने अपराध के लिए माफ़ी मांगी थी और लिखा था कि हार बेचने के बाद उसके मन में गहरा अपराध बोध आ गया. भले ही उसने हार 55,500 रुपये में बेच दिया है, लेकिन वह पूरे पैसे लौटा रहा है. उम्‍मीद है कि वे उसे माफ कर देंगे.

एकेजे

Check Also

पशु चिकित्सा के छात्र की मौत: केरल के राज्यपाल ने कुलपति को निलंबित किया

तिरुवनंतपुरम, 2 मार्च . केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान ने बीवीएससी द्वितीय वर्ष के …