Wednesday , 28 July 2021

सीबीएसई की ऑन लाइन क्लासें: पढ़ाई से पहले होगा जीरो पीरियड

जबलपुर, 21 जून . कोरोना संक्रमण के बीच शहर के ज्यादातर सीबीएसई स्कूलों में ऑनलाइन स्कूलिंग का दूसरा सत्र कल से शुरू हो गया है. पिछले सत्र की गलतियों व कड़वे अनुभवों से सबक लेकर इस बार ऑनलाइन पढ़ाई में ढेर सारे बदलाव देखने को मिलेंगे. कुछ स्कूलों में पहला जीरो पीरियड का होगा, जिसमें पढ़ाई के बजाय योग, डांस, म्यूजिक जैसी विभिन्न गतिविधियां कराई जाएंगी.
इसका उद्देश्य यह है कि बच्चों के शारीरिक, मानसिक विकास की जो कड़ियां स्कूल बंद होने से टूट गई हैं, उन्हें वापस
जोड़ा जा सके. आशंका है कि कोरोना की तीसरी लहर बच्चों को ज्यादा प्रभावित कर सकती है. इसे देखते हुए स्कूल उन्हें योग व ब्रीदिंग एक्सरसाइज से संक्रमण से बचाव के लिए भी तैयार करेंगे. क्लास को रोचक बनाने के लिए भी कई प्रयोग किए जाएंगे.

म्यूजिक………..

टीचर्स छात्रों को वाद्य के अनुसार नोट्स देकर पीरियड के दौरान ही प्रैक्टिस कराएंगे. एक ही इंस्ट्रूमेंट वाले छात्रों को समूहों में बांटकर नियमित अभ्यास कराया जाएगा.

स्पोट्र्स………..

ग्राउंड एक्टिविटी स्टूडेंट घर की छत या पार्क में कर रहे हैं. ऑनलाइन क्लास में थ्योरी के रूप में टीचर्स बच्चों को स्किल्स बताएंगे. योग, कराते, जूडो आदि फिजिकल ट्रेनिंग में टीचर्स उन्हें खुद व्यायाम करके बताएंगे.

आध्यात्मिक गतिविधियां………….

प्रार्थना और मंत्रोच्चार जैसी गतिविधियां भी ऑनलाइन क्लास में शामिल रहेंगी. जिससे उन्हें घर पर भी स्कूल जैसा ही महसूस हो.

पिछली बार यह समस्याएं आई थीं…………

खासकर छोटे बच्चे ऑनलाइन क्लास से उतना जुड़ाव महसूस नहीं कर पा रहे थे. एकाग्रता की कमी महसूस हो रही थी. बच्चों को लंबे समय तक ऑनलाइन क्लास में बैठाए रखने में दिक्कत आ रही थी. बच्चों के शारीरिक व मानसिक विकास के लिए कोई गतिविधि नहीं चलाई जा सकी थी.

Please share this news