Tuesday , 27 October 2020

भारत में रिकवरी के मामलों में भी दिख रही तेजी


नई दिल्ली (New Delhi) . इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च ने जानकारी दी कि 10 सितंबर 2020 तक कुल 5,40,97,975 कोरोना सैंपल का टेस्ट किया गया. इनमें से 11,63,542 सैंपल का टेस्ट कल किया गया. कोरोना से जूझते हुए देश और दुनिया का आज लंबा वक्त हो चुका है. इस वायरस के चलते लाखों लोगों की जान गई लेकिन भारत रिकवरी के मामलों में अब भी काफी बेहतर स्थिति में है. स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी जानकारी से अनुसार भारत में कोविड- 19 से ठीक होने वालों की संख्या में अभूतपूर्व उछाल देखने को मिला है. पिछले 29 दिनों में ठीक हुए रोगियों में 100% से अधिक वृद्धि हुई है.

ये देश के लिए बड़ी राहत है. भारत में कोरोना (Corona virus) के 95,735 नए केस सामने आए हैं, जिसके बाद देश में कोरोना मरीजों की संख्या 44,65,863 हो गई है. सक्रिय मामलों की संख्या 91,90,18 है, जबकि अस्पताल से छुट्टी पाने वाले मरीजों की संख्या 34,71,783 हो गई है. स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, कोरोना से गुरुवार (Thursday) के पिछले 24 घंटों में 1172 मरीजों की मौत हुई है, जिससे कुल मौत का आंकड़ा 75,062 हो गया है.

देश में कोरोना मरीजों की संख्या 1,00,000 रोजाना की और बढ़ रही है जो एक चिंता का विषय है. इधर, एस्ट्रेजेनिका की तरफ से ब्रिटेन में ऑक्सफोर्ड की कोरोना वैक्सीन के ट्रायल पर रोक लगाने के बाद अब भारत में भी इस दवा को तैयार कर रही सीरम इंस्टीट्यूट ने इसके ट्रायल को फिलहाल रोकने का ऐलान किया है. ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया डीसीजीआई की तरफ से कारण बताओ नोटिस मिलने के एक दिन बाद भारतीय दवा निर्माता कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट ने कहा कि वह देश में कोविड-19 (Covid-19) वैक्सीन के ट्रायल को रोक रही है. सीरम इंस्टीट्यूट भारत में ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के कोविशील्ड वैक्सीन को ब्रिटेन की एस्ट्रेजेनिका के साथ तैयार कर रही है.