कोरोना लॉकडाउन के दौरान बुजुर्गों की आत्महत्या के मामलों में बढ़ोतरी हुई – Daily Kiran
Thursday , 9 December 2021

कोरोना लॉकडाउन के दौरान बुजुर्गों की आत्महत्या के मामलों में बढ़ोतरी हुई

मुंबई (Mumbai) . मुंबई (Mumbai) पुलिस (Police) से सूचना अधिकार कानून-आरटीआई (आरटीआई) से ज्ञात हुआ है कि कोरोना लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान बुजुर्गों की आत्महत्या के मामलों में 31% बढ़ोतरी हुई है. आंकड़े ये भी बताते हैं कि लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान हुए आर्थिक नुकसान, बेरोजगारी आदि से पुरुष ज्यादा मानसिक तौर से परेशान हुए. लॉकडाउन (Lockdown) का सर्वाधिक असर बुजुर्गों पर पड़ा. 2020 में वरिष्ठ नागरिकों की आत्महत्या के मामलों में 2019 की तुलना में 31% बढ़ोतरी हुई है. मुंबई (Mumbai) पुलिस (Police) से आरटीआई के तहत आरटीआई कार्यकर्ता जीतेंद्र घाडगे को मिली जानकारी के अनुसार वर्ष 2019 में जहां 92 बुजुर्गों ने आत्महत्या की थी, वहीं 2020 में ये आंकड़ा बढ़ कर 121 हो गया. इनमें बुज़ुर्ग महिलाओं की आत्महत्या के मामलों में 60% बढ़ोतरी दिखती है तो वहीं बुजुर्ग पुरुषों की आत्महत्या का आंकड़ा 21% बढ़ा. वर्ष 2020 में कुल 1282 लोगों ने आत्महत्या की. यानी हर रोज औसतन तीन लोगों ने मौत को गले लगाया जबकि 2019 में यह आंकड़ा 1229 था.

Check Also

ट्राई ने नंबर पोर्ट कराना और ज्यादा आसान किया

मुंबई (Mumbai) .टेलिकॉम कंपनियों ने अपने प्रीपेड प्लान को पहले के मुकाबले काफी महंगा कर …