फिर बजी खतरे की घंटी कोरोना मामलों में आया उछाल – Daily Kiran
Saturday , 23 October 2021

फिर बजी खतरे की घंटी कोरोना मामलों में आया उछाल

नई दिल्ली (New Delhi) . भारत में कोरोना मामलों में रोज के आंकड़े देखें तो कोई खास राहत नजर नहीं आ रही बल्कि बीच- बीच में ये संख्या बढ़ जाने से डर की स्थिति बन रही है. बीते 24 घंटों में देशभर में 35,662 कोरोना मामले देखने को मिले हैं. ये आंकड़ा शुक्रवार (Friday) के मुकाबले अधिक है. हालांकि इस दौरान कुल 33,798 लोग पूरी तरह से ठीक भी हुए हैं. इस समय देश में कोरोना के 3,40,639 मामले सक्रिय हैं. इन हालातों के लिए बड़ा योगदान केरल (Kerala) का भी है जहां कोरोना का दैनिक आंकड़ा 23 हजार के ऊपर बना हुआ है. दक्षिण के राज्यों से कोरोना के सबसे अधिक नए मामले सामने आ रहे हैं. वहीं, तामिलनाडु और आंध्र प्रदेश (Andra Pradesh)में भी पिछले कई दिनों से 1 हजार से ज्यादा केस सामने आ रहे हैं. हालांकि, इन सबके बीच रिकवरी रेट बढ़ने से कोविड के एक्टिव मामले घटे हैं. देश में कोरोना का रिकवरी रेस 97.65% पर है. वहीं कुल मामलों का 1.02% केस सक्रिय हैं. कोरोना का सबसे बुरी मार झेल रहे केरल (Kerala) में गुरूवार को कोरोना (Corona virus) संक्रमण के 23,260 नए मामले सामने आए तथा महामारी (Epidemic) से 131 और मरीजों की मौत हो गई. इसके साथ ही कुल मामले बढ़कर 44,69,488 हो गए और मृतकों की संख्या 23,296 पर पहुंच गई. केरल (Kerala) के मुताबिक त्रिशूर जिले में सर्वाधिक 4,013 नये मामले सामने आए. इसके बाद एर्णाकुलम में 3,143 जबकि कोझिकोड में कोरोना (Corona virus) संक्रमण के 2,095 नये मरीज मिले. स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि राज्य में कोविड-19 (Covid-19) के उपचाराधीन मरीजों की संख्या 1,88,926 है और इनमें से 12.8 प्रतिशत लोग ही अस्पतालों में भर्ती हैं.

राज्य में कुल 5,37,823 लोगों को निगरानी में रखा गया है, जिसमें से 26,363 लोग विभिन्न अस्पतालों में भर्ती हैं. विज्ञप्ति में कहा गया कि केरल (Kerala) में बीते 24 घंटे के दौरान 1,28,817 नमूनों की कोविड-19 (Covid-19) संबंधी जांच हुई और राज्य में संक्रमण दर आठ प्रतिशत से अधिक है. इस बीच, केरल (Kerala) ने टीकाकरण के लिए लक्षित आबादी के 81.9 प्रतिशत लोगों को कोविड-19 (Covid-19) रोधी टीके की पहली खुराक दे दी है, जबकि इसमें से 33.4 प्रतिशत लोग टीके की दोनों खुराक लगवा चुके हैं. स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि राज्य में 45 वर्ष से अधिक आयु के 95 प्रतिशत लोग टीके की पहली खुराक ले चुके हैं जबकि 54 प्रतिशत लोग टीके की दोनों खुराक लगवा चुके हैं. जार्ज ने कहा कि जून, जुलाई और अगस्त के दौरान कोविड ​​​​-19 से संक्रमित होने वाले लोगों में से छह प्रतिशत ने पहले ही टीके की पहली खुराक ले ली थी, जबकि उनमें से 3.6 प्रतिशत ने दोनों खुराक प्राप्त कर ली थी. स्वास्थ्य मंत्री ने शुक्रवार (Friday) को मलप्पुरम जिले में 6.95 करोड़ रुपये की 106 परियोजनाओं का उद्घाटन किया

Please share this news

Check Also

ममता के वित्तमंत्री को आरोप, डर के कारण 6 साल में 35,000 कारोबारी देश छोड़कर जा चुके

कोलकाता (Kolkata) .बंगाल की ममता सरकार में वित्त मंत्री अमित मित्रा ने मोदी सरकार पर …