Thursday , 30 March 2023

शावकों सहित टाइगर के मूवमेंट से भयभीत हो रहे ग्रामीण

सवाईमाधोपुर के रणथम्भौर अभयारण्य के फलौदी रेंज क्षेत्र में मानसरोवर बांध के समीप कण्डूली नदी वन क्षेत्र में इन दिनों बाघिन टी-79 का दो शावकों के साथ मूवमेंट बना हुआ है . साथ ही टी-108 को भी इनके साथ कई बार क्षेत्र में विचरण करते देखा गया है. ऐसे में लोगों में भय है. उन्हें हर समय हादसे का अंदेशा बना रहता है. ग्रामीणों ने बताया कि वन क्षेत्र में बाघ-बाघिन व शावकों के मूवमेंट के चलते किसानों को रात के समय खेतों पर जाना तथा फसलों को पानी देना जोखिम भरा साबित हो रहा है. ग्रामीणों ने बताया कि विद्युत निगम द्वारा सोमवार से कुशालीपुरा फीडर का समय रात को किया जाएगा. इसके चलते किसान भय के साए में है. उन्होंने कहा कि रात को फसल की रखवाली व पानी देने के दौरान बाघ के हमले की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता है.

छाण, जैतपुर, बोदल, कुशालीपुरा गांवों के किसानों ने विद्युत निगम के खण्डार एईएन को ज्ञापन सौंप खेतों में पानी के लिए रात की बजाय दिन में बिजली देने की मांग की है. उन्होंने बताया कि पहले भी वन्य जीवों के हमले की घटनाएं हो चुकी हैं.

सवाईमाधोपुर. रणथम्भौर के जंगल से एक बार फिर पैंथर ने बाहर की ओर कदम बढ़ाए. रणथम्भौर के जंगल से पहले भी कई बार बाघ, पैंथर निकलकर शहर की ओर आ चुके हैं. ऐसा ही शनिवार तडक़े भी हुआ जब शहर के भैरव दरवाजे के निकट में लोगों ने एक पैंथर को सडक़ पर देखा. जानकारी के अनुसार पैंथर, शहर के भैरव दरवाजे के समीप की पहाड़ी से उतर कर नीचे गोपाल मंदिर की तरफ आगे बढ़ता नजर आया. उसे देख एक बार तो लोगों की सांसें अटक गई. वाहनों के पहिए यकायक थम गए. फिर लोगों ने वाहनों से उसका पीछा किया और कुछ लोगों ने उसका वीडियो भी बनाया है.वाहनों की आवाज सुनकर पैंथर गोपाल मंदिर की ओर नाले में चला गया.

Check Also

एक्शन में आईजी, देर संभाग में करवाई नाकाबंदी:अपराधियों-तस्करों में डर पैदा करने देर रात करवाई हथियारबंद नाकाबंदी

संगठित अपराध और वांटेड अपराधियों को पकड़ने के लिए जोधपुर रेंज आईजी जयनारायण शेर ने …