Friday , 25 June 2021

बिहार में कोरोना की रफ्तार एक बार फिर तेज, बीते 24 घंटे में आए 100 से ज्यादा मरीज

पटना (Patna) . बिहार (Bihar) में कोरोना (Corona virus) संक्रमण का प्रकोप ‎फिर बढ़ने लगा है. ‎‎पिछले 24 घंटे के दौरान 100 से ज्यादा मरीज सामने आए हैं. राज्य में गुरुवार (Thursday) को 107 कोरोना मरीज सामने आए हैं. स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई. ‎रिपोर्ट के अनुसार, पटना (Patna) में एक साथ सबसे ज्यादा 26 पॉजिटिव मरीज पाए गए हैं. जबकि भागलपुर में तेजी से नए लोगों में संक्रमण फैल रहा है. भागलपुर में भी 11 लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई है. वहीं भोजपुर रोहतास,सीतामढ़ी समेत कुल 26 जिलों में भी कई मरीज मिले हैं. पॉजिटिव मरीजों आने के बाद राज्य में एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़कर 405 पर पहुंच गई है तो राज्य में सैम्पल जांच की संख्या भी बढ़ा दी गई है.

स्वास्थ्य ‎विभाग का कहना है ‎कि पटना (Patna) में अब एक्टिव मरीजों की संख्या सबसे ज्यादा यानी 183 पर पहुंच गई है. स्वास्थ्य विभाग की टीम अब हर जगह सैम्पल जांच में जुट गई है. सभी अस्पतालों और आइसोलेशन सेंटर्स पर डॉक्टरों (Doctors) की तैनाती भी कर दी गई है. राज्य के सभी जिलों को निर्देश दिया गया है कि जहां भी पॉजिटिव मरीज मिलते हैं वहां माइक्रो कंटेन्मेंट जोन बनाया जाए. ऐसे में डीएम से लेकर सिविल सर्जन भी मॉनिटरिंग में लगे हैं और लोगों से भी एहतियात बरतने की अपील की जा रही है. हालांकि खतरा स्कूली बच्चों को भी है जो रोजाना स्कूल आ रहे हैं. लेकिन मुख्यमंत्री (Chief Minister) सीएम नीतीश ने सभी कयासों पर विराम लगा दिया है और कहा है कि अभी बिहार (Bihar) में हालात सामान्य हैं. स्कूल, कॉलेज अभी बंद नहीं होंगे. सभी जिलों के रेलवे (Railway)स्टेशनों, बस स्टॉप और जहां भी एयरपोर्ट है वहां मेडिकल टीम भी तैनात कर दी गई है जो कि बाहर से आने वाले यात्रियों (Passengers) की कोरोना जांच में जुट गई है.

बता दें ‎कि कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए सभी तरह के समारोह पर भी ब्रेक लग गई है तो होली मिलन समारोह की भी अब अनुमति नहीं है. पटना (Patna) जिला प्रशासन का कहना है ‎कि निजी स्तर पर छोटे पब्लिक कार्यक्रम यानी घर में करने पर रोक नहीं है. इसके लिए भी अनुमति लेनी होगी. जिला प्रशासन स्तर से बड़े सार्वजनिक कार्यक्रम के लिए जल्द अनुमति नहीं मिलेगी. डीएम डॉ. चंद्रशेखर सिंह ने कहा कि पटना (Patna) में कई जगहों पर आइसोलेशन सेंटर एक्टिव कर दिया गया है जो कि पाटलिपुत्र अशोका होटल (Hotel) और सगुना (guna) मोड़ स्थित राधे-कृष्ण आश्रम को कोविड केयर सेंटर के रूप में चालू किया गया है. पाटलिपुत्र होटल (Hotel) अशोक में 165 बेड और राधे-कृष्ण आश्रम में 50 बेड उपलब्ध हैं. वहीं जिले के बाढ़, मसौढ़ी, पालीगंज समेत चार अनुमंडल में 100-100 बेड का कोविड केयर सेंअर चालू किया गया है. जहां 24 घंटे कर्मियों की प्रतिनियुक्ति की गयी है.

Please share this news