यूपी की युवती को नौकरी का झांसा देकर भोपाल बुलाकर किया बलात्कार, इंदौर में छोड़कर फरार हो गया आरोपी इं

भोपाल (Bhopal) . नौकरी लगवाने का झांसा देकर एक युवक ने युवती को उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) से भोपाल (Bhopal) बुला लिया. इसके बाद आरोपी ने लड़की को अपने कमरे पर ले जाकर नौकरी के ऐवज में का समझौता करने का दबाव बनाया. जब युवती ने उसकी बात मानने से इंकार कर दिया, तब आरोपी ने उसे जान से मारने की धमकी देकर अपनी हवस का शिकार बना डाला और बाद में उसे इंदौर (Indore) ले गया वहॉ आरोपी पीडीता को रेलवे (Railway)स्टेशन पर छोड़कर चुपचाप फरार हो गया. इसके बाद पीडि़ता ने जीआरपी इंदौर (Indore) में मामले की शिकायत की थी, जहॉ जीरो पर कायमी करने के बाद केस डायरी अशोका गार्डन थाने भेजी गई. पुलिस (Police) ने केस दर्ज कर आरोपी युवक को हिरासत में लेते हुए आगे की कार्यवाही शुरु कर दी है.

अशोका गार्डन पुलिस (Police) से मिली जानकारी के मुताबिक मूलत: गोरखपुर निवासी 19 वर्षीय युवती इलाहाबाद स्थित एक कपड़े के शोरूम पर काम करती थी. लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान उसकी नौकरी चली गई थी. युवती ने अच्छी नोकरी पाने के लिये अपना बायोडाटा इंटरनेट पर अपलोड किया था, जिसके बाद अशोका गार्डन में रहने वाले सुनील गोयल ने उससे संपर्क किया.

बताया गया है कि सुनील मूलत: राजगढ़ का रहने वाला है, और यहां किराए से रहकर प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहा है. उसने युवती का बायोडाटा देख उससे संपर्क कर उसे भोपाल (Bhopal) में अच्छी नौकरी लगवाने का झांसा दिया. सुनील की बातों पर भरोसा कर युवती बीती छह जून को भोपाल (Bhopal) आ गई, जिसे सुनील ने अपनी बातो मे फसांकर अपने कमरे मे ही ठहरा लिया था इस दौरान आठ जून को सुनील ने उसके साथ जर्बदस्ती दुष्कर्म किया. पीडीता ने जब उसका विरोध किया तो आरोपी ने उसे जल्द ही शादी करने का झांसा दिया.

पुलिस (Police) ने बताया कि सुनील उसे एक निजी कंपनी में नौकरी दिलवाने के लिए पीथमपुर लेकर पहुंचा, लेकिन किसी कारण युवती की नौकरी नहीं लग पाई. इसके बाद दोनों इंदौर (Indore) रेलवे (Railway)स्टेशन पहुंचे. यहां एटीएम से पैसे निकालने का कहकर सुनील चला गया ओर उसके बाद वापस नहीं लौटा. काफी कोशिशो के बाद भी जब पीडीता का उससे संपर्क नहीं हो सका तो उसने जीआरपी थाने जाकर अपने साथ हुई घटना की जानकारी दी. जीआरपी ने शून्य पर केस दर्ज कर घटनास्थल भोपाल (Bhopal) होने के कारण डायरी अशोका गार्डन थाने भेजी थी, जहां असल कायमी कर ली गई है. पुलिस (Police) ने मोबाइल नंबर के आधार पर आरोपी को हिरासत में ले लिया है, जिसे जल्द ही जेल भेजने की तैयारी है.

Please share this news