Friday , 25 June 2021

अविश्वास प्रस्ताव लाकर राजकुमार को सरपंच के पद से हटाया गया

कोरबा .कोरबा क्षेत्र के विकासखण्ड पाली अंतर्गत ग्राम पंचायत जेमरा सरपंच के विरूद्व यहां के पंचों द्वारा लाए गए अविश्वास प्रस्ताव में सरपंच राजकुमार जगत को सरपंच के पद से हटाया गया जहाँ प्रस्ताव के पक्ष में 09 मत तो वही विपक्ष में केवल 02 मत पड़े. अविश्वास प्रस्ताव पास होने के बाद राजकुमार को सरपंच पद से मुक्त कर दिया गया है.

यहां के उपसरपंच सहित 10 महिला, पुरुष पंचों ने सरपंच राजकुमार जगत एवं सचिव निर्मलदास मानिकपुरी के अनियमितता के खिलाफ पूर्व से ही मोर्चा खोल रखा था. जहाँ मूलभूत एवं 14वे वित्त मद से लाखों की राशि गबन करने के मामले में कार्यवाही किये जाने को लेकर लगभग ढाई माह पहले अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन किया गया था जिसके फलस्वरूप विभागीय जांच में सरपंच-सचिव पर लगे लाखों के गबन के आरोप सही पाए जाने पर कार्यवाही के तहत सचिव निर्मलदास को निलंबित किया गया जबकि सरपंच राजकुमार से वित्तीय अधिकार छीन लिया गया था. जिसके बाद यहां के आंदोलनकारी पंचों ने सरपंच को पद से हटाने के लिए पाली एसडीएम अरुण खलखो को पंचायती राज अधिनियम की धारा 21 के तहत अविश्वास प्रस्ताव लाने हेतु 04 बिंदु का पत्र सौंपा गया था. जिसमे सरपंच निर्वाचित होने पश्चात राजकुमार द्वारा पंचायत संचालन मनमाने ढंग से करने व बिना पंचायत बैठक के प्रस्ताव बनाने, 14वे वित्त व मूलभूत मद की राशि का बिना कोई काम कराए आहरण करने, महिला-पुरुष पंचों के साथ दुर्व्यवहार करने, जरूरतमंद जनता को अनेक जनकल्याणकारी योजनाओं से वंचित रखने जैसे प्रमुख बिंदु थे. जिसके आधार पर एसडीएम द्वारा नायब तहसीलदार वीरेंद्र श्रीवास्तव को पीठासीन अधिकारी नियुक्त किया गया जहां अविश्वास प्रस्ताव की कार्रवाई को लेकर ग्राम जेमरा स्थित पंचायत भवन में प्रस्ताव पर पंचों की वोटिंग कराई गई. जिसमे प्रस्ताव के पक्ष में 09 तो विपक्ष में 02 वोट पड़े. इस प्रकार सरपंच को हटाने पंचों का प्रस्ताव सफल रहा जिसके तहत राजकुमार जगत को सरपंच पद से मुक्त कर दिया गया हैं.

जिन पंचों ने सरपंच राजकुमार के विरुद्ध अविश्वास मत लाया उनमें उपसरपंच भंवरसिंह, पंच श्रीमती मीनाबाई, उर्मिलाबाई, फगनीबाई, चमेलीबाई, रामेश्वरी देवी, समरीत बाई, कृष्ण कुमार, रामायण दास ने सरपंच के खिलाफ प्रस्ताव के पक्ष में वोट दिए. इस दौरान पीठासीन अधिकारी के साथ जनपद कार्यालय के वरिष्ठ करारोपण अधिकारी श्यामलाल मरावी, सहायक करारोपण अधिकारी गणेश सिंह पैकरा, सचिव बृजपाल सिंह तंवर व ग्राम कोटवार सहित ग्रामीणजन तथा सुरक्षा के मद्देनजर पुलिस (Police)कर्मी उपस्थित रहे. जहां बिना कोई बाधा के अविश्वास प्रस्ताव के वोटिंग की प्रक्रिया पूर्ण हुई.

Please share this news