प्रेमी ने प्रोपर्टी के लिये सुपारी देकर कराया था प्रेमिका का कत्ल, शव फेंका – Daily Kiran
Thursday , 9 December 2021

प्रेमी ने प्रोपर्टी के लिये सुपारी देकर कराया था प्रेमिका का कत्ल, शव फेंका


-पुलिस (Police) ने इस मामले में उसके प्रेमी समेत 6 आरोपियों को गिरफ्तार किया

जयपुर (jaipur) . जयपुर (jaipur)जिले के चौमूं इलाके में हुई महिला कीहत्या (Murder) उसके प्रेमी ने ही करवायी की थी. प्रेमी ने प्रेमिका कीहत्या (Murder) इस वजह से करवाई थी कि कहीं उसके हाथ प्रोपर्टी नहीं निकल जाये. पुलिस (Police) नेहत्या (Murder) का खुलासा करते हुये प्रेमी और अन्य आरोपियों को पकड़ लिया है. आरोपियों ने इसहत्या (Murder) को आत्महत्या साबित करने के लिये काफी प्रयास किये थे, लेकिन वे सफल नहीं हो पाये. महिला पति की मौत के बाद काफी समय से आरोपी प्रेमी के साथ लिव इन रिलेशन में रह रही थी. जयपुर (jaipur)वेस्ट पुलिस (Police) ने इस मामले में उसके प्रेमी समेत 6 आरोपियों को गिरफ्तार किया है.

जानकारी के अनुसार गत 29 सितंबर की रात को चौमूं के मोरिजा पुलिया पर पुलिस (Police) को एक महिला की लाश मिली थी. उसकी शिनाख्त गुलाब देवी के रूप में हुई थी. एफएसएल की जांच और अन्य तथ्यों की पड़ताल करने पर सामने आया कि महिला की मौत की वजह दुर्घटना की बजायहत्या (Murder) है. पुलिस (Police) जांच में सामने आया कि महिला अपने पति की मौत के बाद दिल्ली में पति की जगह पर नौकरी कर रही थी. इस दौरान वह बाबूलाल नाम के शख्स के साथ लिव इन रिलेशन में रहने लगी. पुलिस (Police) ने बाबूलाल से पूछताछ की तो उसने अपने सहयोगियों के साथ मिलकर महिला को दिल्ली से जयपुर (jaipur)लाकरहत्या (Murder) करना स्वीकार कर लिया. साल 2011 में प्रेमी बाबूलाल ने 17 लाख रुपये और महिला ने 5 लाख रुपए देकर एक फ्लैट खरीदा था. लेकिन पिछले 2 महीनों से महिला अपने परिवार के एक बच्चे को गोद लेने और प्रेमी बाबूलाल को छोड़ने की बात करने लगी थी.

इससे प्रेमी बाबूलाल को प्रोपर्टी जाने का भय सताने लगा. उसके बाद उसने गुलाब कीहत्या (Murder) की साजिश रची. बाबूलाल ने प्रेमिका कीहत्या (Murder) के लिए बदमाशों से ढाई लाख रुपए में सौदा तय किया औरहत्या (Murder) को आत्महत्या का एंगल देने की कोशिश की. डीसीपी प्रदीप मोहन शर्मा ने बताया कि आरोपियों ने महिला के नाम से एक फर्जी लैटर लिखकर उसके बैग में रख दिया. लैटर में भाइयों के साथ प्रोपर्टी विवाद की बात लिखते हुए आत्महत्या की बात लिखी दी.हत्या (Murder) के बाद शव को मोरिजा पुलिया पर फेंक गए ताकि वह हाइवे पर गुजरने वाले वाहनों से कुचल जाए औरहत्या (Murder) का अंदेशा ना हो. आरोपियों ने पुलिस (Police) को बरगलाने की काफी कोशिश भी की लेकिन वे कामयाब नहीं हो पाये.

Check Also

ट्राई ने नंबर पोर्ट कराना और ज्यादा आसान किया

मुंबई (Mumbai) .टेलिकॉम कंपनियों ने अपने प्रीपेड प्लान को पहले के मुकाबले काफी महंगा कर …