Thursday , 4 March 2021

दो दिन पहले अगवा हुए 4 साल के बच्चे की मिली लाश, मचा हड़कंप

औरंगाबाद (Aurangabad) . बिहार (Bihar) के औरंगाबाद (Aurangabad) में दो ‎दिन पहले अगवा हुए 4 वर्षीय बच्चे की लाश ‎मिली है. इस घटना के बाद इलाके में सनसनी फैल गयी. अब गांव में तनाव की स्थिति उत्पन्न हो गयी है. मौके पर पहुंची उपहारा थाने की पुलिस (Police) को गांव वालों ने शव उठाने से मना कर दिया. दरअसल रविवार (Sunday) की रात अपनी नानी रंजू देवी के साथ घर के एक कमरे में सोये 4 वर्षीय धैर्य को कुछ अपराधियों ने अगवा कर लिया था. इस दौरान अपराधियों ने धैर्य की नानी पर धारदार हथियार से प्रहार कर उसे गंभीर रूप से जख्मी कर दिया था, बाद में वह बेहोश हो गयी थी.

इस घटना की जानकारी धैर्य का मामा को सुबह हुई. उसकी मां खून से लथपथ बेसुध पड़ी हैं और उनका भांजा धैर्य लापता है. रोहित को समझते देर नहीं लगी कि कुछ अनहोनी हुई है. आनन-फानन में घायल महिला को गोह पीएचसी लाया गया जहां आवश्यक उपचार के बाद महिला की हालत गंभीर देखते हुए चिकित्सकों ने बेहतर इलाज के लिये उसे गया रेफर कर दिया. घायल महिला के देवर यानि कि रिश्ते में धैर्य के नाना शशिभूषण शर्मा उपहारा थाना पहुंचे और अपनी भाभी पर जानलेवा हमला और नाती धैर्य के अपहरण मामले की लिखित सूचना दी तब जाकर पुलिस (Police) सक्रिय हुई. एसडीपीओ राजकुमार तिवारी के नेतृत्व में पुलिस (Police) टीम उपहारा पहुंचकर जांच कर वापस लौटी ही थी कि धैर्य का शव मिलने की सूचना उन्हें मिली. उसका शव गांव से थोड़ी दूर पर पुनपुन नदी के पास सिंचाई के लिये बने एक नाले में फेंका हुआ था जिसे गांव की ही एक महिला ने देखा और फिर इसकी सूचना गांव वालों को दी थी. शव मिलने की जानकारी होते ही पुलिस (Police) टीम जब उसे अपने कब्जे में लेने पहुंची तो उसे ग्रामीणों के विरोध का सामना भी करना पड़ा. एसडीपीओ राजकुमार तिवारी ने बताया कि मामला अभी अनुसंधान अंतर्गत है. उन्होंने घरेलू समेत कई बिन्दुओं पर जांच किये जाने की बात कही है.

Please share this news