Monday , 26 July 2021

मध्य प्रदेश की युवती की संदिग्ध मौत, 17 दिन बाद भी पुलिस के हाथ खाली

अहमदाबाद (Ahmedabad) . मध्य प्रदेश निवासी 23 वर्षीय 2 मार्च को अहमदाबाद (Ahmedabad) से सोमनाथ-जबलपुर (Jabalpur)एक्सप्रेस में सवार होकर भोपाल (Bhopal) रवाना हुई थी. ट्रेन में यात्रा कर रही युवती का शव दाहोद जिले के लीमखेडा के गोरिया रेलवे (Railway)अंडरपास के निकट बरामद हुआ. इस घटना को 17 दिन बीत चुके हैं, लेकिन पुलिस (Police) अब तक युवती की मौत की गुत्थी सुलझाने में नाकाम रही है.

जानकारी के मुताबिक मध्य प्रदेश के अनूपपुर की रहनेवाली 23 वर्षीय सुप्रिया तिवारी नामक युवती कच्छ में अपनी बहन के घर आई थी. 15 दिन बहन के घर रहने के बाद सुप्रिया अहमदाबाद (Ahmedabad) से 2 मार्च को सोमनाथ-जबलपुर (Jabalpur)एक्सप्रेस में भोपाल (Bhopal) के लिए रवाना हुई थी. ट्रेन के कोच नंबर बी/1 में सीट संख्या 33 पर यात्रा कर रही सुप्रिया से उसके परिवार की 2 मार्च को रात 9.37 बजे आखरी बार बातचीत हुई थी. जिसके बाद सुप्रिया से कोई संपर्क नहीं हुआ. सुप्रिया के भोपाल (Bhopal) नहीं पहुंचने पर परिवार ने सुप्रिया की खोजबीन शुरू कर दी. दूसरी ओर सुप्रिया के बहनोई राजेश त्रिवेदी ने उसके सोमनाथ-जबलपुर (Jabalpur)एक्सप्रेस ट्रेन से लापता होने की रपट गोधरा रेलवे (Railway)पुलिस (Police) थाने में दर्ज करवा दी.

सोमनाथ-जबलपुर (Jabalpur)ट्रेन का गोधरा रेलवे (Railway)स्टेशन पर स्टोपेज नहीं होने के बावजूद वहां ट्रेन खड़ी रही थी. 3 मार्च को लीमखेडा के गोरिया रेलवे (Railway)अंडरपास के निकट अज्ञात युवती का शव बरामद हुआ. जांच करने पर शव सुप्रिया होने का खुलासा होने के बाद उसका परिवार लीमखेडा पहुंच गया. ट्रेन के एसी कोच में सुप्रिया के साथ यात्रा कर रहे युवक से पूछताछ में पता चला कि वह मोबाइल रखकर वॉशरूम गई थी, जिसके बाद वापस नहीं लौटी. यह स्पष्ट है कि सुप्रिया गोधरा स्टेशन से लापता हुई थी, इसके बावजूद पुलिस (Police) के हाथ 17 दिनों बाद भी खाली हैं.

Please share this news