सुप्रीम कोर्ट बोला- लंबित आपराधिक मामले की जानकारी नहीं देने वाला कर्मचारी नियुक्ति का हकदार नहीं – Daily Kiran
Sunday , 24 October 2021

सुप्रीम कोर्ट बोला- लंबित आपराधिक मामले की जानकारी नहीं देने वाला कर्मचारी नियुक्ति का हकदार नहीं

नई दिल्ली (New Delhi) . देश की शीर्ष कोर्ट ने कहा कि अपने खिलाफ लंबित आपराधिक मामले में कभी झूठी घोषणा करने वाला या तथ्य को दबाने वाला कर्मचारी ‘अधिकार के तौर पर’ नियुक्ति का हकदार नहीं है. सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) ने राजस्थान (Rajasthan) हाई कोर्ट के 2019 के उस फैसले को रद्द करते हुए यह टिप्पणी की, जिसमें एक कर्मचारी को सेवा से बर्खास्त करने के आदेश को रद्द कर दिया गया था. दरअसल, नियुक्ति के लिए आवेदन सौंपने के वक्त कर्मचारी ने अपने खिलाफ लंबित आपराधिक मामले का खुलासा नहीं किया था. न्यायमूर्ति एमआर शाह और न्यायमूर्ति एएस बोपन्ना की पीठ ने कहा कि यहां सवाल यह नहीं है कि क्या कर्मचारी तुच्छ प्रकृति के विवाद में संलिप्त है और क्या वह इसके बाद बरी हुआ है या नहीं, बल्कि यह ‘विश्वास’ के बारे में है. न्यायालय का यह फैसला नियोक्ता राजस्थान (Rajasthan) राज्य विद्युत प्रसारण निगम लिमिटेड की एक याचिका पर आया है, जिसने बर्खास्तगी आदेश को रद्द करने के हाई कोर्ट के आदेश को चुनौती दी थी.

Please share this news

Check Also

आर्यन खान ड्रग्‍स केस में नया मोड़! गवाह बोला 18 करोड़ में हुई डील

मुंबई (Mumbai) , . हाल ही में नारकोटिक्‍स कंट्रोल ब्‍यूरो (एनसीबी) द्वारा क्रूज ड्रग्‍स पार्टी …