Saturday , 5 December 2020

चीन-अमेरिका के सेनाध्यक्षों ने तनावपूर्ण हालात के बीच किया आपस में ‘आपदा-संचार’


पेइचिंग . चीन और अमेरिका में तनातनी के बीच दोनों देशों के सेना अध्यक्षों ने इस हफ्ते एक-दूसरे से आपदा-संचार किया है. दोनों सेनाओं के बीच दक्षिण चीन सागर में तनावपूर्ण हालात बने हुए हैं. अमेरिका ने संभावित ड्रोन हमले की बात से इनकार किया है. यह जानकारी ऐसे वक्त में आई है जब अमेरिका के डिफेंस सेक्रटरी मार्क एस्पर और विदेश मंत्री माइक पॉम्पियो एशिया के दौरे पर हैं.

दोनों अधिकारियों ने सभी देशों से चीन की चुनौती का सामना करने की अपील की है. चीन और अमेरिका की सेनाओं ने वीडियो कॉन्फ्रेंस कर आपदा-संचार किया है, चीनी रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता वू कियान ने इस बारे में जानकारी दी है. वू के मुताबिक एस्पर ने उन मीडिया (Media) रिपोर्ट को खारिज किया जिनमें कहा गया था कि अमेरिका चीनी टापुओं और दक्षिणी चीन सागर को एमक्यू-9 ड्रोन से स्टडी कर रहा है. एस्पर ने कहा कि अमेरिका चीन के साथ कोई सैन्य संकट पैदा नहीं करना चाहता है. वू ने कहा, ‘हम अमेरिका से वादा निभाने की अपील कर रहे हैं और चीन की सेना को हवा और समुद्र में उकसावे से बचने के लिए कदम उठाने की अपील कर रहे हैं.’ उन्होंने यह भी कह दिया कि चीन समुद्र में हमले का जवाब देगा.