Thursday , 3 December 2020

गौ कल्याण के लिए सेस लगाने की योजना

भोपाल (Bhopal) . प्रदेश में भाजपा सरकार गाय के कल्याण के लिए धन जुटाने सेस (उपकर) लगाने की योजना बना रही है. मुख्यमंत्री (Chief Minister) शिवराज सिंह चौहान ने रविवार (Sunday) को आगर-मालवा में एक जनसभा में यह मंशा जताई.

cm-gau-tax

यह समाचार News पर पूरे विस्‍तार से पढ़ें

सभा को संबोधित करते हुए सीएम चौहान ने ‘गौमाता’ टैक्स लगाने पर लोगों की राय मांगी. शिवराज ने लोगों से पूछा, मैं ‘गौमाता’ के कल्याण के लिए और गौशालाओं के उत्थान के लिए कुछ मामूली कर लगाने के बारे में सोच रहा हूं… क्या यह ठीक रहेगा?” इस पर सभा में मौजूद लोगों ने हां में जवाब दिया.

शिवराज ने कहा, हमारी संस्कृति रही है कि हम गायों को पहले रोटी (घरों में पके हुए) खिलाते थे. इसी तरह, हम कुत्तों को आखिरी रोटी खिलाते थे. हमारी भारतीय संस्कृति में जानवरों के लिए यही चिंता थी, जो अब लुप्त हो रही है. इसलिए हम गायों की खातिर जनता से कुछ छोटे टैक्स वसूलने की सोच रहे हैं.

उन्होंने कहा कि राज्य में गौशाला चलाने के लिए एक कानून बनाया जाएगा. सीएम ने कहा कि समाज को भी गायों की रक्षा में सरकार की मदद करनी चाहिए. पहले, गायों के बिना कृषि खेती असंभव थी, लेकिन ट्रैक्टर ने ऐसी खेती को बदल दिया है.

मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में नई गौ नीति बनायी जाएगी: शिवराज

इससे पहले मुख्यमंत्री (Chief Minister) चौहान ने कहा, “मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में गौ-सेवा के लिए समेकित नीति बनाए जाने की शुरुआत की गई है. गौ-शालाओं का संचालन केवल सरकार अकेले करे इससे बेहतर है कि इसमें श्रद्धा, आस्था और समर्पण भाव रखने वाली विभिन्न स्वयंसेवी संस्थाओं को भी जोड़ा जाए.

मुख्यमंत्री (Chief Minister) ने कहा कि शीघ्र ही इस संबंध में सभी संस्थाओं के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के द्वारा एक वर्चुअल मीटिंग रखी जाएगी, ताकि सभी के सुझाव वृहद स्वरूप में प्राप्त हो सकें. इसी के आधार पर मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में नई गौ नीति बनायी जाएगी.