Tuesday , 20 October 2020

दिल्ली के इंदिरा गांधी एयरपोर्ट कोरोना के RT-PCR टेस्ट की सुविधा


नई दिल्ली (New Delhi) . दिल्ली आने वाले सभी विदेशी यात्रियों (Passengers) के लिए 7 दिन का इंस्टिट्यूशनल क्वॉरंटीन जरूरी नहीं होगा, क्योंकि अब दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर ही विदेश से आने वाले यात्रियों (Passengers) का कोरोना का आरटी-पीसीआर टेस्ट कराया जाएगा. इसके लिए अब केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने एयरपोर्ट पर ही लैब और टेस्टिंग का इंतजाम कर दिया है.

एयरपोर्ट पर लैंड करने के बाद विदेश से आने वाले यात्रियों (Passengers) का रजिस्ट्रेशन किया जाएगा, जिसके लिए आईसीएमआर की गाइडलांइस के मुताबिक जानकारी ली जाएगी. इसके बाद यात्रियों (Passengers) का सैंपल लिया जाएगा, इसके लिए चार बूथ बनाए गए हैं. यहां मौजूद अधिकारियों के मुताबिक अभी यहां 3000 यात्रियों (Passengers) के टेस्ट की सुविधा है.

टेस्ट और लाउंज के लिए यात्रियों (Passengers) को पांच हजार रुपये देने होंगे. इसमें 2400 रु. टेस्ट का रेट जो कि आईसीएमआर द्वारा निर्धारित दर है. वहीं बाकि राशि एयरपोर्ट लाउंज की है, जहां पर रिपोर्ट आने तक यात्रियों (Passengers) को रोका जाएगा. 5-6 घंटे में टेस्ट की रिपोर्ट आ जाएगी और इस दौरान यात्रियों (Passengers) को लाउंज में ही इंतजार करना होगा. अगर रिपोर्ट नेगिटिव आती है तो उन्हें आगे की यात्रा की अनुमित दी जाएगी. यदि किसी यात्री की रिपोर्ट पॉजिटिव आती है तो उनकी जानकारी गवर्नमेंट प्रॉटोकॉल के मुताबिक दिल्ली सरकार (Government) के लोगों को दी जाएगी और उन्हें क्वॉरंटीन किया जाएगा.