Sunday , 25 July 2021

पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतें अब चुभने लगी हैं – जदयू


नई दिल्ली (New Delhi) . पेट्रोल-डीजल की कीमतों में अप्रत्याशित वृद्धि पर एनडीए की पार्टी जनता दल यूनाइटेड (जदयू) ने कहा है कि पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतें अब चुभने लगी हैं और भारत सरकार इस पर तत्काल रोक लगाए. पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने सफाई देते हुए रविवार (Sunday) को कहा था कि सरकार को टीकाकरण के लिए 35,000 करोड़ और महामारी (Epidemic) के दौरान सामाजिक कल्याण की योजनाओं के लिए अतिरिक्त फंड्स की जरुरत है. उधर जेडीयू ने कहा है कि केंद्र और राज्य सरकारें पेट्रोल-डीजल पर टैक्स तत्काल घटाएं.

पेट्रोलियम मंत्री ने कहा था कि “मैं स्वीकार करता हूं कि तेल की कीमतें उपभोक्ताओं को चुभ रही हैं. इसमें कोई दो राय नहीं है लेकिन एक साल में कोविड टीकाकरण पर 35,000 करोड़ खर्च होना है. प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत 8 महीने तक राशन देने पर 1 लाख करोड़ खर्च हो रहा है. ऐसे संकट के दौर में हम वेलफेयर स्कीम्स पर खर्च के लिए पैसे बचा रहे हैं.” देश में पेट्रोल-डीजल की रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच चुकी कीमतों पर पेट्रोलियम मंत्री की इस दलील से बीजेपी की अपनी सहयोगी जनता दल यूनाइटेड सहमत नहीं है.

जदयू के प्रधान महासचिव केसी त्यागी ने एक समाचार चैनल से कहा, ‘पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी हमें चुभ रही है, हमें दर्द हो रहा है और भारत सरकार पेट्रोल (Petrol) डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी को तत्काल रोक लगाए.’

उन्होंने आगे कहा, “पेट्रोल-डीजल की कीमतों पर सरकारी नियंत्रण बहुत जरूरी है. सरकार को कोई ऐसा मेकैनिज्म लाना चाहिए, जिससे पेट्रोल-डीजल का मूल्य निर्धारण बाजार के हाथ में न हो. राज्य सरकारों को वैट घटाना चाहिए. पेट्रोलियम पदार्थों पर केंद्र सरकार (Central Government)और राज्य सरकार (State government) दोनों को पेट्रोल (Petrol) डीजल पर टैक्स घटाए.”

Please share this news