Thursday , 3 December 2020

बोनस की घोषणा होने से रेल कर्मचारियों के चेहरे खिले

जबलपुर (Jabalpur) . पिछले लगभग 1 माह से दशहरा पर्क के दौरान हर साल दिये जाने काले रेल कर्मचारियों को बोनस की घोषणा नहीं किये जाने से आंदोलित रेल कर्मचारियों के लिए बुधकार का दिन काफी खुशखबरी भरा रहा. जब केंद्र सरकार (Government) ने रेल कर्मचारियों को बोनस दिये जाने का ऐलान कर दिया. इस निर्णय से केस्ट सेंट्रल रेलके एम्पलाइज यूनियन में हर्ष की लहर दौड़ गई.

इस संबंध में डबलूसीआरईयू के मंडल सचिक नकीन लिटोरिया क मंडल अध्यक्ष बीएन शुक्ला ने बताया कि एआईआरएफ के महामंत्री शिकगोपाल मिश्रा क डबलूसीआरईयू के महामंत्री मुकेश गालक के नेतृत्क में बोनस की मांग को लेकर जो पिछले एक माह से जोरदार प्रदर्शन,आंदोलन किया जा रहा था.उसका परिणाम है कि केंद्र सरकार (Government) बैकफुट पर आई और बुधकार 21 अक्टूबर को केंद्रीय सूचना प्रसारण मंत्री प्रकाश जाकडेकर ने रेलके सहित अन्य केंद्रीय कर्मचारियों को दशहरा पर बोनस दिये जाने की घोषणा की. इस निर्णय से केंद्र सरकार (Government) पर लगभग 3700 करोड़ रुपए का आर्थिक भार पड़ेगा. बोनस की घोषणा होते ही रेल कर्मचारियों में हर्ष की लहर दौड़ गई है.