Tuesday , 15 June 2021

बिना टिकट यात्रियों पर रेलवे ने 9 महीने में वसूला 10 करोड़ का जुर्माना


मुंबई (Mumbai) . मुम्बई (Mumbai) में एक तरफ जहां बढ़ते कोरोना मामलों के बीच लाइफलाइन लोकल और लंबी दूरी की ट्रेनों में बिना मास्क वालों की संख्या बढ़ रही हैं, वहीं दूसरी तरफ बिना टिकट यात्रा करने वाले यात्रियों (Passengers) की संख्या भी बड़ी ही तेजी से बढ़ रही है. बिना टिकट लोकल ट्रेनों और लंबी दूरी की ट्रेनों में यात्रा करने वाले यात्रियों (Passengers) पर मध्य रेलवे (Railway)का हंटर चला है और इसकी गवाही बिना टिकट यात्रा करने वालों से वसूली गई दंड की रकम दे रही है.

मध्य रेलवे (Railway)द्वारा जारी किए गए आंकड़े के मुताबिक 15 जून 2020 से लेकर 21 मार्च तक करीब 9 महीने में मध्य रेलवे (Railway)ने बिना टिकट यात्रियों (Passengers) से करीब 10 करोड़ 4 लाख रुपए जुर्माने के तौर पर वसूला है. इस दौरान करीब 3 लाख 2 हजार यात्री बिना टिकट यात्रा करते हुए पकड़े गए हैं. दरअसल ट्रेनों में बढ़ती बिना टिकट यात्रियों (Passengers) की संख्या को जानकारी मिलने के बाद रेलवे (Railway)ने सघन ड्राइव लॉन्च किया था. इस ड्राइव के दौरान मुम्बई (Mumbai) के लोकल ट्रेन सेक्शन 2.25 लाख यात्री बिना टिकट यात्रा करते हुए पकड़े गए, जिनसे करीब 6 करोड़ 2 लाख रुपये जुर्माना वसूला गया.

इसके अलावा लंबी दूरी की ट्रेनों में बिना यात्रा करते हुए 75 हजार यात्री पकड़े गए, जिनसे मध्य रेलवे (Railway)ने करीब 4 करोड़ 2 लाख रुपए का जुर्माना वसूला है. मध्य रेलवे (Railway)द्वारा जारी किए गए आंकड़े के मुताबिक जनवरी 2021 में 65,150 यात्री बिना टिकट यात्रा करते पाए गए, जिनसे करीब 1.90 करोड़ रुपए, फरवरी 2021 में 79,251 बिना टिकट यात्रियों (Passengers) से 2.66 करोड़ रुपए और मार्च 2021 में 62,873 बिना टिकट यात्रियों (Passengers) से 2.42 करोड़ रुपए वसूले गए हैं.

Please share this news