Monday , 30 November 2020

हैंड सैनिटाइजर सहित चिकित्सा सामग्रियों की कीमत में कमी आई


नई दिल्ली (New Delhi) . केन्द्रीय सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्रालय ने कोविड-19 (Covid-19) चुनौती से निपटने के लिए टेक्नोलॉजी आधारित अनेक पहल और कार्यक्रम शुरू किए हैं. ये पहल और कार्यक्रम प्रधानमंत्री के आत्मनिर्भर भारत और मेक इन इंडिया के आह्वान के प्रति कारगर कदम साबित हुए हैं.

इन पहलों और कार्यक्रमों की सहायता से देश न केवल पर्याप्त हैंड सेनिटाइजर बोतल डिस्पेंसर्स (पंप/फ्लिप) का निर्माण बढ़ती हुई मांग को पूरा करने के लिए करता है बल्कि देश इसके निर्यात के लिए भी तैयार है. इन पहलों से भारत को हैंड सैनिटाइज करने की सामग्रियों (लिक्विड/जेल) में आत्मनिर्भरता हासिल हुई है और इन कार्यक्रमों ने मास्क, फेस शील्ड, पीपीई किट, सैनिटाइजर (Sanitizer) बॉक्स, जांच सुविधाओं आदि को विकसित करने/बनाने में काफी योगदान दिया है. सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम मंत्रालय (एमएसएमई) मंत्री नितिन गडकरी ने इन पहलों और उपलब्धियों पर टीम एमएसएमई की सराहना की है.