Saturday , 10 April 2021

राष्ट्रपति कोविंद माँ नर्मदा की महाआरती में हुए शामिल

जबलपुर (Jabalpur). राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद संस्कारधानी में पुण्य सलिला माँ नर्मदा के ग्वारीघाट पर महाआरती में शामिल हुए. कोविंद ने स्वास्तिवाचन, हर-हर नर्मदे और नर्मदाष्टकम् के श्लोकों की गूँज के बीच पूरे विधि-विधान से पुरोहितों की मौजूदगी में माँ नर्मदा की पूजा-अर्चना की.

president-narmada-aarti

धर्म और आध्यात्मिकता से सराबोर राष्ट्रपति कोविंद माँ नर्मदा की महात्म्यता से अभिभूत हो गये. उन्होंने ग्वारीघाट में नर्मदा के अलौकिक सौंदर्य को निहारा. इसके बाद देव दीपावली से नजारे के बीच अर्द्ध-चंद्राकार में बने मंच से माँ नर्मदा आरती के दर्शन भी किये.

राज्यपाल श्रीमती आनंदी बेन पटेल, सर्वोच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश (judge) शरद अरविंद बोवड़े और मुख्यमंत्री (Chief Minister) शिवराज सिंह चौहान भी नर्मदा आरती में शामिल हुए. सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) के न्यायाधीश (judge) अशोक भूषण, केन्द्रीय पर्यटन एवं संस्कृति राज्य मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल एवं उनकी धर्मपत्नी श्रीमती पुष्पलता पटेल, केन्द्रीय इस्पात राज्य मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते, सांसद (Member of parliament) राकेश सिंह और राज्यसभा सांसद (Member of parliament) विवेक कृष्ण तन्खा भी महाआरती में शामिल हुए.


माँ नर्मदा की भव्य आरती में राज्य मंत्री आयुष जल संसाधन रामकिशोर कांवरे, विधायकगण सहित धर्माचार्य और संत समाज मौजूद रहे. केन्द्र सरकार के संस्कृति मंत्रालय के तत्वावधान में आयोजित नर्मदा महाआरती की संपूर्ण व्यवस्था का दायित्व केन्द्रीय पर्यटन एवं संस्कृति राज्य मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल ने निभाया.


फूलों और रंगोली के साथ आकर्षक विद्युतीय साज-सज्जा की दूधिया रोशनी की जगमगाहट से रात के अंधेरे में भी सुबह जैसी रोशनी से दमकते उमाघाट पर जब सात अर्चकों ने नर्मदा महाआरती को भव्यता दी, तो धर्म, अध्यात्म, आस्था और श्रृद्धा से ग्वारीघाट का पूरा वातावरण भक्तिमय हो गया.


News 2021

Please share this news