Saturday , 19 June 2021

राष्ट्रपति ने नरेंद्र व्यास और नरेश चंद्रवंशी को छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट के अतिरिक्त जज नियुक्‍त किए


नई दिल्ली (New Delhi) . भारत के राष्ट्रपति ने भारत के संविधान के अनुच्छेद 224 के खंड द्वारा प्रदत्त शक्ति के प्रयोग करते हुए दो साल के लिए नरेंद्र कुमार व्यास और नरेश कुमार चंद्रवंशी को छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) उच्च न्यायालय के अतिरिक्त न्यायाधीश (judge) के रूप में नियुक्त किया है. इस संबंध में एक अधिसूचना आज, न्याय विभाग, विधि और न्याय मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा जारी की गई.

नरेंद्र कुमार व्यास, बी.एसी, एल.एल. बी. ने 1996 में वकील के रूप में कैरियर की शुरुआत की थी. उनके पास 23 वर्षों का अनुभव है. उन्होंने 1996 से 2002 की अवधि के दौरान श्रम न्यायालय, औद्योगिक न्यायालय, जिला अदालत, बिलासपुर, रायगढ़, जांजगीर-चांपा, ईपीएफ ट्रिब्यूनल, केंद्र सरकार (Central Government)के औद्योगिक ट्रिब्यूनल सह श्रम न्यायालय में प्रैक्टिस की है और उसके बाद आज तक छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) हाईकोर्ट में प्रैक्टिस कर रहे हैं. नरेश कुमार चंद्रवंशी, बीए.ए, एलएल.बी 1990 को न्यायिक सेवा में शामिल हुए थे. न्यायिक अधिकारी के रूप में उन्होंने अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश, शक्ति, छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) उच्च न्यायालय में एडिशनल रजिस्ट्रार, जिला और सत्र न्यायाधीश, सुरगुजा, अंबिकापुर, छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के राज्यपाल के कानूनी सलाहकार के रूप में कार्य किया और वर्तमान में वे प्रमुख सचिव, विधि और विधायी कार्य विभाग, छत्तीसगढ़, रायपुर (Raipur) (Raipur) में काम कर रहे हैं.

Please share this news