Monday , 1 June 2020
प्रताप सिंह खाचरियावास ने सूबत पेश कर कहा, राजनीति बंद करो और शर्म करो संबित पात्रा

प्रताप सिंह खाचरियावास ने सूबत पेश कर कहा, राजनीति बंद करो और शर्म करो संबित पात्रा


जयपुर (jaipur) . राजस्थान के परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा के उन आरोपों का खंडन किया है, जिसमें कहा गया कि कोटा के छात्रों को यूपी वापस भेजने के लिए राज्य की कांग्रेस सरकार (Government) ने यूपी सरकार (Government) से 19 लाख रुपए लिए थे.

मंत्री खाचरियावास ने कहा है कि, आप झूठ बोल रहे हैं, यह जिन पैसों की आप बात कर रहे हैं, यह राज्यपथ परिवहन उत्तरप्रदेश की बसें जब राजस्थान आई तब उत्तरप्रदेश परिवहन अधिकारियों के निवेदन पर उनकी बसों में डीज़ल डलवाया था. खाचरिवास ने यूपी के परिवहन विभाग की एक चिट्‌टी भी ट्वीट की है. उन्होंने लिखा है कि यह ‘उस डीज़ल के पैसे की आप बात कर रहे है. झूठ और फरेब की राजनीति आप बंद करो ओर शर्म करो’.

गहलोत सरकार (Government) के मंत्री खाचरियावास ने सबूत’ के तौर पर यूपी परिवहन विभाग की चिट्‌ठी भी साझा की है, जिसमें राजस्थान सरकार (Government) से मदद की अपील की गई थी.इसके पहले बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने 19 लाख रुपए के चेक और बिल की तस्वीर को ट्विटर पर शेयर करते हुए कहा था कि, कोटा से छात्रों को वापस लाते समय यूपी की कुछ बसों को डीजल की आवश्यकता पड़ गई, दया छोड़िए आधी रात को आफिस खुलवा कर प्रियंका वाड्रा की राजस्थान सरकार (Government) ने यूपी सरकार (Government) से पहले 19 लाख रुपए लिए और उसके बाद बसों को रवाना होने दिया, वाह रे मदद’.

पात्रा ने अपने एक अन्य ट्वीट में लिखा,कोटा में यूपी के 10000 छात्र (student) फंसे हुए थे. योगी सरकार (Government) ने 560 बसें भेजीं उन्हें लाने के लिए. मालूम पड़ा 12000 बच्चे हैं. यूपी सरकार (Government) ने राजस्थान सरकार (Government) से फतेहपुर/झांसी सीमा तक 70 बसों की सहायता ली. प्रियंका वाड्रा की राजस्थान सरकार (Government) ने आज 36 लाख का बिल भेजा है वाह मदद #दोगली_कांग्रेस’.