क्वाड समिट से पहले बाइडेन संग अलग से होगी पीएम मोदी की मीटिंग – Daily Kiran
Sunday , 24 October 2021

क्वाड समिट से पहले बाइडेन संग अलग से होगी पीएम मोदी की मीटिंग

नई दिल्ली (New Delhi) . व्हाइट हाउस में 24 सितंबर को क्वाड समूह देशों के नेताओं की पहली व्यक्तिगत मुलाकात होने वाली है. इस दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) , ऑस्ट्रेलियाई पीएम स्कॉट मॉरिसन और जापान के योशीहिदे सुगा की मेजबानी करेंगे. अब यह जानकारी मिली है कि इस समिट में हिस्सा लेने से पहले पीएम मोदी और जो बाइडेन के बीच द्विपक्षीय वार्ता होगी. सूत्रों के मुताबिक, क्वाड बैठक से पहले 23 सितंबर को पीएम मोदी भारत के रणनीतिक साझेदार जापान और ऑस्ट्रेलिया के नेताओं से द्विपक्षीय वार्ता कररेंगे. जापानी पीएम योशीहिदे सुगा और ऑस्ट्रेलियाई पीएम स्कॉट मॉरिसन के साथ पीएम मोदी खुले और स्वतंत्री हिंद-प्रशांत क्षेत्र को लेकर बातचीत करेंगे. भारत की अपने सभी तीन क्वाड सहयोगियों के साथ टू-प्लस-टू वार्ता हो चुकी है. इसी माह भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच नई दिल्ली (New Delhi) में 11 सितंबर को पहली टू-प्लस-टू वार्ता हुई थी. 24 सितंबर को पहले पीएम मोदी अमेरिकी उपराष्ट्रपति कमला हैरिस के साथ द्विपक्षीय वार्ता करेंगे और फिर पहली बार वह राष्ट्रपति जो बाइडेन के साथ व्यक्तिगत मुलाकात करेंगे. इसके बाद चारों देश क्वाड समिट में हिस्सा लेंगे. ये सभी वार्ताएं व्हाइट हाउस में ही आयोजित की जाएंगी.

विदेश मंत्री एस. जयशंकर 20 सितंबर को ही अमेरिका रवाना हो रहे हैं. वह यहां संयुक्त राष्ट्र महासभा में हिस्सा लेने और साथ ही में क्वाड समिट से पहले जमीनी काम पूरा करने जा रहे हैं. हालांकि, क्वाड देशों के विदेश मंत्रियों के बीच कोई बैठक अभी तक प्रस्तावित नहीं है.एक तरफ जहां पीएम मोदी इन देशों के साथ द्विपक्षीय रिश्तों को और गहरा करने की कोशिश करेंगे तो वहीं, क्वाड सम्मेलन में सबसे बड़ा मुद्दा तालिबान शासित अफगानिस्तान होगा. तालिबान सरकार, जिसमें सारे वैश्विक आतंकियों को मंत्री बनाया गया है और एक भी महिला या अल्पसंख्यक को जगह नहीं मिली है. इसके अलावा तालिबान सरकार यूएनएससी के 30 अगस्त 2021 को पारित किए कए रेजॉल्यूशन 2593 के खिलाफ भी काम कर रही है.

Please share this news

Check Also

पंजाब के असली मुद्दों से बात नहीं भटकने दूंगा: नवजोत सिंह सिद्धू

नई दिल्ली (New Delhi) .कांग्रेस पार्टी बार-बार यह साबित करने में जुटी है कि उसकी …