Sunday , 28 February 2021

समुद्री लुटेरों ने तुर्की के मालवाहक पोत पर हमला कर नाविक की हत्या की, 15 अन्य का अपहरण किया

अंकारा . समुद्री लुटेरों ने पश्चिमी अफ्रीका के तट पर तुर्की के मालवाहक पोत पर हमला कर एक नाविक की हत्या (Murder) कर, 15 अन्य का अपहरण कर लिया है. तुर्की के समुद्री निदेशालय ने बताया कि एम/वी मोजार्ट नामक पोत के चालक दल सदस्यों ने शुरुआत में खुद को सुरक्षित स्थान पर बंद कर लिया था लेकिन करीब छह घंटे बाद लुटेरों ने वहां पहुंचकर संघर्ष शुरु कर दिया, जिसमें चालक दल के एक सदस्य की मौत हो गई. मृत चालक दल सदस्य की पहचान अजरबैजान निवासी एवं पेशे से इंजीनियर फरमान इस्मायीलोव के तौर पर की है, जो पोत पर एक मात्र गैर तुर्की सदस्य थे.

मीडिया (Media) रिपोर्ट के मुताबिक शनिवार (Saturday) को पोत में सवार अधिकतर चालक दल का अपहरण करने के बाद लुटेरों ने तीन नाविकों के साथ पोत को गिनी की खाड़ी में छोड़ दिया गया है. पोत इस समय गैबोन के बंदरगाह जेंटिल की ओर बढ़ रहा है. तुर्की के राष्ट्रपति कार्यालय ने ट्वीट किया, तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब एर्दोआन ने पोत पर बचे वरिष्ठ अधिकारी से दो बार बात की है. कार्यालय ने बताया कि राष्ट्रपति ने अपहृत चालक दल के सदस्यों की सकुशल वापसी का आदेश भी जारी किया है.

उल्लेखनीय है कि लाइबेरिया का ध्वज लगा मोजार्ट नामक पोत नाइजीरिया के लागोस से दक्षिण अफ्रीका के केप टाउन जा रहा था और शनिवार (Saturday) सुबह द्विपीय देश साओ टोमे एंड प्रिंसीप से 185 किलोमीटर उत्तर पश्चिम में इसका अपहरण किया गया. खबरों के मुताबिक समुद्री लुटेरों ने पोत की अधिकतर प्रणाली को निष्क्रिय कर दिया है केवल नेविगेशन प्राणाली को छोड़ा है ताकि चालक दल के सदस्य बंदरगाह तक पहुंच सकें.

Please share this news